सीएम कैबिनेट में पांच मंत्रियों को मिली जिम्मेदारी,राज्यपाल लाल जी टंडन ने दिलाई शपथ, - विंध्य न्यूज़


नरोत्तम मिश्रा, तुसली सिलावट, कमल पटेल, मीना सिंह और गोविंद सिंह राजपूत बने मंत्री

भोपाल –  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के शपथ लेने के 29 दिन बाद आखिरकार आज मंगलवार को छोटा कैबिनेट का विस्तार किया गया है राज्यपाल लालजी टंडन ने 5 विधायकों को मंत्री पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई । इस दौरान सभी मंत्रियों ने शारीरिक दूरी का विशेष ख्याल रखा। भाजपा हाईकमान की हरी झंडी मिलने के बाद पांच मंत्रियों को शपथ दिलाने का निर्णय हुआ जिसमें भाजपा खेमे से 3 वाह ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे से दो मंत्रियों ने शपथ ली। इस मंत्रिमंडल गठन में पार्टी में पांच मंत्रियों में दो मंत्री सिंधिया को कोटे से हैं इससे साफ है कि सरकार में सिंधिया का दखल बरकरार है। शपथ समारोह में सबसे पहले बीजेपी के ब्राह्मण कद्दावर नेता नरोत्तम मिश्रा ने शपथ ली और इसके बाद तुलसीराम सिलावट ने, कमल पटेल गोविंद सिंह राजपूत और मीना सिंह ने मंत्री पद की शपथ ली।

मंत्रियों को विभाग का बंटवारा

कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर शपथ समारोह का आयोजन सादगी से किया गया। कोरोना के चलते शारीरिक दूरी और संक्रमण से बचाव के सभी उपायों को अपनाते हुए आयोजन हुआ। मंत्रियों के शपथ के बाद कैबिनेट की बैठक होगी, जिसमें मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने को लेकर मंत्री मैदान में उतरेंगे। माना जा रहा है कि इस बैठक में मंत्रियों को विभाग का बटवारा किया जा सकता है। फिलहाल मंत्रिमंडल का स्वरूप छोटा रखा गया है।

जातीय समीकरण को दी तरजीह मंत्रिमंडल के विस्तार में जातीय समीकरण को तरजीह दी गई है। महिला और आदिवासी वर्ग का प्रतिनिधित्व मीना सिंह, ओबीसी वर्ग से कमल पटेल, अनुसूचित जाति वर्ग से सिलावट और सामान्य वर्ग से नरोत्तम मिश्रा और गोविंद सिंह राजपूत को प्रतिनिधित्व दिया जा रहा है।


3 मई के बाद फिर हो सकता है विस्तार
3 मई को लॉकडाउन खत्म होने के बाद मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। क्योंकि कई ऐसे वरिष्ठ नेता हैं जिन्हें अभी तक मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलने से असंतुष्ट है। बीजेपी को मंत्रिमंडल के विस्तार में विरोध का सामना भी करना पड़ सकता है ऐसे में सीएम शिवराज सिंह सभी नेताओं का भरोसा लेकर ही मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे। 

पिछली सरकार के दो मंत्री
गौरतलब है कि शिवराज कैबिनेट में मंत्री बने तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत कमलनाथ सरकार में भी मंत्री थी। तुलसी सिलावट के पास स्वास्थ विभाग और गोविंद सिंह राजपूत के पास परिहवन विभाग का जिम्मा था। अब देखना यह है कि शिवराज मंत्रिमंडल में इन्हें कौन सा विभाग मिलता है।

4 thoughts on “सीएम कैबिनेट में पांच मंत्रियों को मिली जिम्मेदारी,राज्यपाल लाल जी टंडन ने दिलाई शपथ,

Comments are closed.