uncategorized

नौकरी दिलाने के नाम पर 7 लाख की ठगी करने वाला आरोपी निकला NCL कर्मचारी,4 गिरफ्तार

सिंगरौली– एनसीएल में नौकरी दिलाने के नाम पर 10 लाख की ठगी करने वाले गिरोह के चार सदस्यों को मोरवा पुलिस ने गिरफ्तार किया है पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से 10,000 नगदी सहित सोने की चैन व कई  फर्जी सील,फर्जी नियुक्ति पत्र जप्त किया गया है। बता दें कि पकड़े गए आरोपी बकायदा ज्वाइन आदेश सहित एनसीएल मुख्यालय में मकान भी एलाट कर दिया था। पुलिस अब पकड़े गए आरोपियों की चल एवं अचल संपत्तियों से ठगी की गई राशि की वसूली कर ठगी के शिकार हो चुके लोगों को पैसा वापस कराएगी।

BJP नेता का ट्वीट, राम के राज्य में पेट्रोल 93 रुपए,सीता के देश मे 53 रुपए और रावण की लंका में 51 रुपए

दरअसल जब शिकायतकर्ता भागवत प्रसाद वर्मा नियुक्ति पत्र लेकर एनसीएल में जॉइनिंग के लिए पहुंचा दो अधिकारियों ने बताया कि यह जॉइनिंग आदेश फर्जी है जिसके बाद शिकायतकर्ता ने मोरवा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि सौरभ सिंह 3 माह पूर्व दुद्धीचुआ में मिला था और खुद को एनसीएल का कर्मचारी बताते हुए एनसीएल में नौकरी दिलाने के एवज मे 10 लाख रुपए देने की बात कही ।

खाद्य विभाग गरीबों का लाखो लीटर पी गया केरोसिन ? अब अधिकारी लीपापोती पर लगे

बताया जा रहा है कि शिकायतकर्ता नौकरी पाने के लालच में ठगों के झांसे में आ गये और सात लाख रुपए दे दिए। यहा जानने लायक है कि आरोपी पहले भी ठगी की कई वारदातों को अंजाम दे चुके है। पुलिस ने जांच के दौरान सौरभ सिंह अनिल सिंह को रीवा एवं सीधी से घेराबंदी कर गिरफ्तार किया है जबकि फर्जी लेटर पैड एवं शील मुद्रा बनाने वाले प्रिंटिंग प्रेस के संचालक वीरेश भारद्वाज एवं एनसीएल कर्मी रविंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।

Airtel ने की 5G नेटवर्क की घोषणा,स्पीड देख उड़ जाएंगे होश

GF के साथ दोस्त के कमरे में पकड़ाया करोड़पति कारोबारी का बेटा,फिर हुआ हंगामा,आ गई पुलिस

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button