uncategorized

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर शिवराज की बर्बरता,यह घटना गुलामी काल में अंग्रेजी शासन की याद दिलाती है: प्रदीप 


सीधी– किसान विरोधी काले कानूनों के विरोध में दिल्ली की सरहद में पिछले 2 महीने से संघर्ष कर रहे किसानों के समर्थन में मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा शांतिपूर्ण तरीके से भोपाल में राजभवन के समक्ष प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर शिवराज सरकार द्वारा की गई बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज,अश्रु गैस एवं वाटर कैनन के प्रयोग पर कांग्रेस पार्टी ने कड़ी निंदा करते हुए इस दमनात्मक कार्यवाही को गुलामी काल में अंग्रेजी शासन की याद दिलाती है । 

जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता प्रदीप सिंह दीपू ने जारी बयान में कहा है कि भोपाल में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे किसानों महिलाओं एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ ही मीडिया कर्मियों को शिवराज सिंह के इशारे पर पुलिस ने जिस तरह से बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज वॉटर कैनल एवं अश्रु गैस के गोले दागे हैं इससे शिवराज की तानाशाही से गुलामी काल में अंग्रेजों द्वारा किए गए दमन की याद ताजा हो गई है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि  शिवराज की तानाशाही एवं बर्बरता से कई कार्यकर्ताओं किसानों एवं महिलाओं तक को भी गंभीर चोट पहुंची है। इस बर्बर कार्यवाही में एक कार्यकर्ता की अंगुली तक कट कर अलग हो गई है। शिवराज सरकार की तानाशाही ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का बड़ी बेरहमी से खून बहाया है। शिवराज की दमनकारी कार्यवाही में धरती पर गिरे कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खून की हर बूद देश के लोकतंत्र और संविधान को मजबूती प्रदान करेगी। तानाशाह शिवराज सरकार की बर्बरता से एक बार फिर से लोकतंत्र शर्मिंदा और शर्मसार हुआ है। उन्होंने कहा कि भोपाल में किसानों के समर्थन में शांतिपूर्ण आंदोलन पर शिवराज ने जिस तरह से दमनकारी नीति अपनाकर अपने अहंकार का वस्त्र हीन तांडव किया है उसे पूरा देश देखा है। कांग्रेस प्रवक्ता ने अपने बयान के अंत में कहा कि शिवराज सिंह की बर्बरता के सामने कांग्रेसका कार्यकर्ता ना झुकेगा ना रुकेगा बल्कि उसका मुंहतोड़ जवाब लोकतांत्रिक तरीके से देगा और जनता की लड़ाई और बुलंदी के साथ लड़ेगा।

सीधी के अतिथि शिक्षकों के लिए यहां निकले पद,यहां देखें आवेदन की अंतिम तिथि

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button