भोपाल में जमात-उल-मुजाहिदीन के 4 सदस्य देर रात गिरफ्तार, बड़ी साजिश की हो रही थी प्लानिंग ?

Madhya Pradesh STF ने बड़ी कार्रवाई की है। जमात-उल-मुजाहिदीन के 4 सदस्यों को भोपाल में गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच अब एनआईए को सौंप दी गई है।शुरुआती जांच में सामने आया है कि ये बांग्लादेश में सक्रिय आतंकवादी संगठन जमात-ए-मुजाहिद्दीनके सदस्य हैं….

गृह मंत्रालय ने एनआईए को सौंपी जांच

एसटीएफ ने किया गिरफ्तारी,मचा हड़कंप

Madhya Pradesh के भोपाल में जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (JMB) मॉड्यूल के 4 सदस्यों की गिरफ्तारी का मामला सामने आया है. मध्य प्रदेश एसटीएफ ने भोपाल के ऐशबाग थाने से करीब 200 मीटर दूर फातिमा मस्जिद के पास अहमद अली कॉलोनी में एक घर में छापेमारी की. जहां से जेएमबी मॉड्यूल के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया. गृह मंत्रालय ने मामले की जांच एनआईए को सौंप दी है।

बता दें कि गिरफ्तार किए गए संदिग्ध बांग्लादेशी मूल के हैं। सभी यहां जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) संगठन के लिए स्लीपर सेल तैयार कर रहे थे। भारत सरकार ने इस संगठन पर प्रतिबंध लगा दिया है।आरोपियों के पास से भारी मात्रा में जिहादी साहित्य, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और संदिग्ध दस्तावेज बरामद किए गए हैं। आरोपी जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) का सक्रिय सदस्य है। मध्य प्रदेश पुलिस द्वारा जब्त किए गए जिहादी साहित्य को एनआईए ने अपने कब्जे में ले लिया है।

सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार किए गए संदिग्ध जिहादी गतिविधियों में शामिल थे। स्लीपर सेल तैयार किए जा रहे थे ताकि भविष्य में गंभीर राष्ट्रविरोधी घटनाएं हो सकें। बता दें कि जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) एक आतंकवादी संगठन है जिसने 2005 में बांग्लादेश के 50 शहरों और कस्बों में 300 जगहों पर 500 छोटे विस्फोट किए थे। बांग्लादेश में भी बड़े पैमाने पर नरसंहार किए। संगठन ने 2014 में वर्धमान, पश्चिम बंगाल, भारत में और 2018 में बोधगया में विस्फोट किए थे।

ये आतंकी किए गए है गिरफ्तार

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी आतंकियों के JMB से जुड़े होने की पुष्टि की है. नरोत्तम मिश्रा ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि ATS ने फजहर अली उर्फ महमूद पिता अशरफ इस्लाम उम्र 32 साल, मोहम्मद अकील उर्फ अहमद पिता नूर अहमद शेख उम्र 24 साल, जहूरउद्दीन उर्फ इब्राहिम उर्फ मिलोन पठान उर्फ जौहर अली पिता शाहिद पठान उम्र 28 साल, फजहर जैनुल आबदीन उर्फ अकरम अल हसन, उर्फ हुसैन पिता अब्दुल रहमान को गिरफ्तार किया है।

भारत में स्लीपर सेल तैयार करता है संगठन

इस आतंकवादी संगठन के द्वारा भारत के कई क्षेत्रों में स्लीपर सेल तैयार करने के प्रयास किए जा रहे हैं, जिससे आतंकवादी घटनाएं कराई जा सके. गिरफ्तार सभी आतंकी ऐसी ही एक स्लीपर सेल का हिस्सा है जो कोई बड़ी घटना करने के फिराक में था…..

कहां हुई थी गिरफ्तारी

ATS को सूचना मिली थी कि भोपाल में कुछ आतंकी छिपे हुए हैं. पड़ताल के बाद शनिवार देर रात 3:30 बजे पुलिस ऐशबाग पहुंची और एक बिल्डिंग में छापा मारा. यहां पुलिस के आने की भनक लगने पर आतंकियों ने दरवाजा अंदर से बंद कर लिया था, जिसके बाद पुलिस दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुई और वहां से दो लोगों को पकड़ा गया. इनकी निशान देही के बाद दो अन्य को करोंद इलाके की खातिजा मस्जिद के करीब से गिरफ्तार किया गया।

Back to top button