uncategorized

मृतकों के परिजनों के घर पहुंच सांसद ने बंधाया ढाढ़स,आधा दर्जन गांवों में पहुंचकर सांसद ने व्यक्त कीं शोक संवेदना 

सीधी– जिले के बघवार बाणसागर नहर में यात्री बस दुर्घटना में असमय के काल में 54 लोग समा गये। सीधी सांसद रीती पाठक ने लगातार प्रभावितों के घर पहुंच शोक संवेदना व्यक्त करते हुए इस संकट की घड़ी में परिजनों को ढाढ़स देते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।  

सीधी सांसद रीती पाठक ने हर्रा निवासी स्व.छोटेलाल के घर पहुंच उनके सड़क दुर्घटना में असमय निधन पर शोक व्यक्त किया, साथ ही परिजनों को ढाढ़स बंधाया। तत्पश्चात डउआडोल निवासी प्रियंका सिंह पिता प्रमोद सिंह, राजमती सिंह पिता छोटेलाल सिंह के असमय काल निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए परिजनों से मुलाकात कर ढाढ़स बंधाया। ग्राम कोड़रिया निवासी संतोष गुप्ता के निवास पहुंच शोक संवेदना व्यक्त कीं। धनवाही निवासी नवल सिंह के घर पहुंच उनके पुत्री के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि दीं और परिवारजनों से मुलाकात करते हुए कहा कि इस संकट की घड़ी में केन्द्र एवं प्रदेश सरकार आपके साथ खड़ी है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हर संभव सहायता के लिए आश्वस्त किया है। सांसद रीती पाठक ने साजापानी गांव पहुंच अंशुमान बैगा के निवास जाकर बघवार में हृदय विदारक बस दुर्घटना में काल कवलित हुई प्रतिभावान बेटी सविता बैगा के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए इस संकट के घड़ी में परिवारजनों को ढाढ़स बंधाया। ग्राम जूरी निवासी लक्षिमन यादव के घर पहुंच उनके होनहार पुत्र प्रदीप कुमार यादव के असमय काल निधन पर शोक संवेदना व्यक्त कीं। साथ ही कुसमी निवासी रामपति यादव के पुत्र, बहू,तीन माह की पोती व भतीजे के निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त कीं। साथ में धौहनी विधायक कुंवर सिंह टेकाम भी मौजूद थे।  

खुद के आंंसू नहीं रोक पायीं सांसद
बघवार बस हादसे में काल कलवित हुए मृतक परिजनों के घर पहुंच सांसद शोक संवेदना व्यक्त कर रहीं थीं। इस दौरान मृतक के परिजनों को रोते-बिलखते देख खुद सांसद अपने आसुंओं को नहीं रोक पायीं। बल्कि महिलाओं,बेटियों के गले मिलकर ढाढ़स बंधाते हुए आंसू पोछते रहीं। यहां तक की सांसद को देख परिजन बिलखने लगे थे। उन्होंने कहा कि इस संकट की घड़ी में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हर संभव मदद करने के आश्वस्त किये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button