uncategorized

वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट” योजना में सीधी को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मिली पहचान


सीधी पारंपरिक पंजा दरी और कालीन बुनकरों का घर
सीधी — महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र ने जानकारी देकर बताया है कि सीधी पारंपरिक पंजा दरी और कालीन बुनकरों का घर है। बहुत सुंदर डिजाइन, जीवंत रंग, समृद्ध वस्त्र और 50 से अधिक वर्षों से उच्च स्थायित्व के साथ, सीधी की दरियां, कालीन गुणवत्ता और सुंदरता की पहचान हैं।

बता दें कि सीधी के सिहावल ब्लॉक में लगभग 40 पंजा दरी और कालीन बुनाई समूह हैं जो कॉटन और ऊन के ताने-बाने पर पंजा नामक औजार से सुन्दर दरियों का निर्माण करते हैं। अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर हस्तकला मेलों एवं व्यापार मेलो के माध्यम से दरियों और कालीनों ने प्रसिद्धि प्राप्त की है। साथ ही कई इकाइयों को गुणवत्ता प्रमाणीकरण हेतु वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार से ‘हैंडलूम मार्क’ भी प्रदान किया गया है। इसके प्रचार प्रसार, ब्रांडिंग और बाजार लिंकेज के लिए “वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट” योजना के तहत सीधी जिले में दरी-कालीनों को भी चुना गया है।

900 से ज्यादा शिक्षक हुए फेल तो शिक्षा विभाग ने दिया अल्टीमेटम, शिक्षकों में मचा हड़कंप

IMG 20210120 WA0028

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button