सिंगरौंली- भाजपा युवा मोर्चा में छिड़ी जंग,जिलाध्यक्ष पद चयन के बाद दो गुटों में बटी भाजपा

इन दिनों भाजपा दो गुटों में बट गई है। वही जिला अध्यक्ष राजेंद्र सिंह परमार के क्रियाकलापों की शिकायत भोपाल पहुंची है। जिसके बाद पार्टी में हड़कंप मच गया हैं।

सिंगरौली – भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष की घोषणा के बाद युवा मोर्चा में जंग छिड़ गई है। इन दिनों भाजपा दो गुटों में बट गई है। वही जिला अध्यक्ष राजेंद्र सिंह परमार के क्रियाकलापों की शिकायत भोपाल पहुंची है। जिसके बाद पार्टी में हड़कंप मच गया हैं।


कार्यकर्ताओ को संगठन की रीढ़ कहने वाली भारतीय जनता पार्टी भी अब कार्यकर्ताओ को दरकिनार करती दिखाई देने लगी है। भाजपा संगठन में उच्च पदों पर आसीन अब कार्यकर्ताओ के बजाय अपने सगे सम्बन्धियो व परिचितों को पद बाँटने में व्यस्त है।बता दे कि सिंगरौली के युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष पद के लिए डेढ़ दर्जन कार्यकर्ताओं ने दावेदारी की थी , जिनमे से प्रदेश संगठन ने कई नाम तय किये , उनमे कुछ नामो पर विचार चल ही रहा था की अचानक राजेंद्र सिंह परमार के नाम की घोषणा कर दिया गया। कहा जा रहा है घोषित नाम सीधा क्षेत्रीय कार्यालय से तय हुआ है ।घोषित युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष क्षेत्रीय अध्यक्ष के करीबी बताये जा रहे है। राजेंद्र सिंह परमार के युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष घोषित होते ही क्षेत्र के कार्यकर्ताओं में रोष है व कई कार्यकर्ताओ ने खुले रूप से इसे सोशल मीडिया पर व्यक्त भी किया था। हालत यह है कि अब युवा मोर्चा दो खेमों में बट गया है।

Back to top button