uncategorized

सीधी में 4 लाख रुपये से ज्यादा कीमत की प्रतिबंधित दवाई अल्टो कार से पकड़ाई,

सीधी – जिले को उड़ता पंजाब बनने से रोकने के लिए पुलिस लगातार प्रतिबंधित दवाइयों पर नकेल कसने नशा विरोधी अभियान संजीवनी चला रही है। अभियान के तहत दो लोग कमर्जी से सीधी अल्टो कार से आ रही थे। जब गाड़ी की तलाशी ली गई तो अल्टो कार से 10 कार्टून प्रतिबंधित रिस्कफ सिरप पकड़ा है। जिसकी बाजार में कीमत करीब 4 लाख 42 हजार रुपए से अधिक कीमत बताई जा रही है। कोतवाली पुलिस की इस कार्रवाई से प्रतिबंधित कारोबारियों पर हड़कंप मचा है

पुलिस अधीक्षक सीधी के निर्देशन तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीधी के मार्गदर्शन में, चलाए जा रहे नशा विरोधी अभियान संजीवनी के तहत थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक हितेंद्र नाथ शर्मा के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस ने, भारी मात्रा में अवैध नशीली कफ सिरप का परिवहन करने वाले दो आरोपियों सौरभ द्विवेदी पिता पिता राकेश द्विवेदी तथा अनुराग द्विवेदी पिता दिलीप द्विवेदी को गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही के उपरांत माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया है ।

दिल्ली दौरे से लौटे सीएम शिवराज, मंत्रियों से मिलकर की ये मांग,विन्ध्य के लिए कुछ भी नही मांगा !


मामला विवरण
दिनांक 18.01.2020 को थाना प्रभारी कोतवाली को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि दो व्यक्ति मारुति की अल्टो कार में अवैध नशीली कफ सिरप लेकर कमर्जी तरफ से सीधी की ओर आ रहे हैं मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी कोतवाली द्वारा तत्काल उपनिरीक्षक पूनम सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर रवाना की गई । उक्त टीम द्वारा कारूभारत के पास घेराबंदी कर संदिग्ध वाहन अल्टो 800 कार क्रमांक एमपी 53 सीए 3792 को रोककर कार के अंदर देखा गया तो 10 कार्टूनों के अंदर विंग्स कम्पनी की अवैध नशीली कफ सिरप दिखाई दी जिसके परिवहन तथा विक्रय के संबंध में- उक्त वाहन के चालक सौरभ द्विवेदी पिता राकेश द्विवेदी उम्र 21 वर्ष निवासी हिनौती थाना कमर्जी तथा वाहन पर बैठे दूसरे व्यक्ति अनुराग द्विवेदी पिता दिलीप द्विवेदी उम्र 21 वर्ष निवासी पड़खुरी थाना जमोडी से पूछा गया तो दोनों के द्वारा ऐसा कोई कागजात उपलब्ध ना होना बताया गया, जिसके पश्चात दोनों आरोपियों कार एवं नशीली कफ सिरप को जप्त कर थाना लाया गया। सिरप की गिनती करने पर 1188 शीशी पाई गई जिसकी कीमत 1 लाख 42 हजार 560 रुपए तथा परिवहन में प्रयुक्त वाहन अल्टो कर की कीमत लगभग 3 लाख रुपए कुल कीमती चार लाख 42 हजार पांच सौ साठ रुपए के मशरूका को जप्त कर उक्त दोनों आरोपियों का कृत्य 8,21,22 एनडीपीएस एक्ट एवं 5/13 मध्य प्रदेश ड्रग कंट्रोल एक्ट के तहत दंडनीय पाए जाने से दोनों आरोपियों के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध कर माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है।

महिला को धमकाने पर टीआई पर FIR,हो सकते है निलंबित ! जाएंगे जेल ?


उक्त समस्त कार्रवाई में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक हितेंद्र नाथ शर्मा, उपनिरीक्षक पूनम सिंह उपनिरीक्षक केदार परोहा, आरक्षक आज़ाद, सुनील, राजू, सुरेंद्र, शिवेंद्र, पुलिस लाइन से आर0 रोशन तथा साइबर सेल सीधी से प्रदीप मिश्रा एवं कृष्ण मुरारी द्विवेदी शामिल रहे हैं जिसमें उक्त माल को पकड़ने एवं ट्रेस करवाने में आरक्षक आजाद खान एवं प्रदीप मिश्रा की सराहनीय भूमिका रही है।

विधायक नारायण त्रिपाठी ने आंदोलन का किया ऐलान,बोले हमारा पुराना विंध्य प्रदेश वापस कर दें,

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button