uncategorized

सीधी शिक्षा विभाग में सुविधा शुल्क का खेल,अब किया यह बड़ा कारनामा,

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय की व्यवस्थाएं भगवान भरोसे

सीधी — वर्तमान समय में जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय की व्यवस्थाएं भगवान भरोसे चल रही हैं। यहां सुविधा शुल्क के दम पर मनमाना कार्य चल रहा है। सबसे बड़ी मनमानी शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूलों में प्राचार्य के पद के प्रभार देने को लेकर चल रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यहां सुविधा शुल्क के दम पर प्राचार्य के पद के प्रभार बांटे जा रहे हैं। जिले के हायर सेकेंडरी स्कूलों में वरिष्ठ अध्यापकों व व्याख्याताओं को नजर अंदाज कर प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला शिक्षकों को हायर सेकेंडरी स्कूलों का प्राचार्य बनाया जा रहा है।कुछ ऐसा ही हाल जिले के जनपद पंचायत रामपुर नैकिन अंतर्गत शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल कुआं का है।

बताया गया कि यहां के प्राचार्य के पद का प्रभार माध्यमिक शिक्षक महेंद्र पांडेय को दिया गया है। जबकि शाला में हायर सेकेंडरी के ही कई वरिष्ठ अध्यापक व व्याख्याता कार्यरत हैं, जिन्हें माध्यमिक शिक्षक के अधीनस्थ कार्य करना पड़ रहा है। बताया गया कि शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल कुआं में वरिष्ठ शिक्षक इंदुपूर्णा शुक्ला, हरिचरण पटेल, प्रवीण कुमार मिश्रा, सुनीता पटेल कार्यरत हैं। इसके बावजूद माध्यमिक शिक्षक महेंद्र पांडेय को प्राचार्य का प्रभार सुविधा शुल्क के दम पर सौंप दिया गया है।

 स्थानीय होने से मनमानी हावी
बताया गया कि महेंद्र पांडेय ग्राम कुआं के ही मूल निवासी हैं और यहीं के हायर सेकेंडरी स्कूल का मनमानी पूर्वक उन्हें प्रभारी प्राचार्य बना दिया गया है। स्थानीय होने के कारण उनकी मनमानी हावी है। स्थानीय अभिभावक उनकी मनमानी का खुलकर विरोध भी नहीं कर पाते, वहीं ज्यादातर शिक्षक बाहरी होने के कारण भी प्रभारी प्राचार्य की मनमानी का विरोध नहीं कर पा रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि महेंद्र पांडेय नियम विरूद्ध तरीके से वर्ष 2015 से शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल के बतौर प्रभारी प्राचार्य कार्यरत हैं।

कोई प्रभार लेने को नहीं है तैयार: नवल
यह बात सही है कि प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षकों को हायर सेकेंडरी स्कूल का प्रभारी प्राचार्य बनाया गया है। इसका कारण यह है कि कोई वरिष्ठ शिक्षक प्राचार्य के पद का प्रभार लेने को तैयार नहीं है। शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल कुआं में भी वरिष्ठ शिक्षकों द्वारा प्राचार्य के पद का प्रभार न लेने से माध्यमिक शिक्षक को महेंद्र पांडेय को प्रभारी प्राचार्य बनाया गया है।   नवल सिंह जिला शिक्षा अधिकारी सीधी

सीधी के दो ठेकेदारों का ऑडियो वायरल,कलेक्टर को दे रहे गाली, बोले राहुल के दबाव में कलेक्टर खेलेंगे गेम

सरकारी कर्मचारियों को जल्द मिल सकती है यह बड़ी सौगातें, सीएम शिवराज ने किया आश्वस्थ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button