Heavy Rain Alert in MP : भोपाल, ग्वालियर, रीवा, संभाग में भारी वर्षा के आसार, रेड अलर्ट जारी

Heavy Rain Alert in MP: भोपाल । मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 10 जिलों में भारी से अत्यधिक भारी वर्षा होने और गरज के साथ बिजली गिरने की संभावना व्यक्त करते हुए रेड अलर्ट जारी किया है। दरअसल उत्तर प्रदेश और हरियाणा पर कम दबाव के क्षेत्र बने हुए हैं। मानसून ट्रफ भी इन्हीं सिस्टम से होकर बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। इस वजह से उत्तरप्रदेश से लगे मध्यप्रदेश के जिलों में पिछले तीन-चार दिन से अच्छी बरसात हो रही है। मौसम विज्ञानियों के सोमवार को ग्वालियर, चंबल, उज्जैन,रीवा संभाग में भारी वर्षा होने की आसार है। आगामी 24 घंटों में कहीं-कहीं पर भारी से अत्यधिक भारी वर्षा और गरज के साथ बिजली चमकने एवं गिरने की संभावना का रेड अलर्ट जारी किया गया है।

पीटीआई-भाषा से उन्होंने कहा कि इस दौरान इन 10 जिलों में 115.6 मिलीमीटर से 204.5 मिलीमीटर तक बारिश हो सकती है। साहा ने बताया कि आईएमडी ने अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 16 अन्य जिलों में भारी से अतिभारी वर्षा होने और गरज के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना व्यक्त करते हुए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है, जिनमें भोपाल, रीवा, सीधी, सतना, सिंगरौली, सागर, छतरपुर, दमोह, पन्ना, टीकमगढ़, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, विदिशा एवं आगर मालवा जिले शामिल हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि रविवार को सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक प्रदेश के हनुमना, जया, चितरंगी में सबसे अधिक 15-15 सेंटीमीटर वर्षा दर्ज की गई, जबकि नईगढ़ी में 14 सेंटीमीटर, रीवा एवं सिंगरौली में 13-13 सेंटीमीटर, हुजूर एवं रामपुर में 12-12 सेंटीमीटर, सरई एवं त्योंथर में 11-11 सेंटीमीटर और मऊगंज में 10 सेंटीमीटर बारिश हुई। उन्होंने बताया कि इसके अलावा, प्रदेश के जबलपुर, शहडोल, सागर, रीवा, भोपाल, होशंगाबाद, उज्जैन, ग्वालियर एवं चंबल संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर वर्षा या गरज चमक के साथ बौछारें गिरने की संभावना है।

शाह ने बताया कि पिछले 24 घंटे में सतना में 25, खजुराहो में 23.2, नौगांव में 19, रीवा में 18, गुना, उज्जैन में 10, पचमढ़ी में नौ, सागर में छह, ग्वालियर में 5.4, मंडला में चार, रतलाम, शाजापुर में तीन, उमरिया, दमोह में दो, भोपाल, जबलपुर में 1.2, होशंगाबाद में एक, इंदौर में 0.7 मिलीमीटर बारिश हुई। रविवार को राजधानी में दिन भर रुक- रुक कर फुहारें पड़ती रही। बादल छाए रहने के कारण अधिकतम तापमान 25.2 डिग्रीसेल्सियस दर्ज किया गया। जो सामान्य से चार डिग्री से.कम रहा। न्यूनतम तापमान 23 डिग्रीसे. रिकार्ड हुआ। यह सामान्य रहा

तीन वेदर सिस्‍टम हैं सक्रिय

मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि गहरा कम दबाव का क्षेत्र दक्षिणी उत्तरप्रदेश पर सक्रिय है। दक्षिणी हरियाणा में भी एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके अतिरिक्त मानसून ट्रफ अनूपगढ़, हरियाणा के ऊपर कम दबाव के केंद्र से लेकर अलीगढ़ और उत्तरप्रदेश पर बने वेदर सिस्टम से गया, डुमका, बांकुरा से होते हुए उत्तरी बंगाल की खाड़ी तक गया हुआ है। इन तीन वेदर सिस्टम के सक्रिय रहने से उत्तरप्रदेश से लगे मध्यप्रदेश के जिलों में भारी बरसात हो रही है। सोमवार को रीवा, शहडोल संभाग के जिलों में वर्षा की गतिविधियों में कुछ कमी आने लगेगी, लेकिन ग्वालियर, चंबल, उज्जैन संभाग में और भोपाल, सागर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश होने के आसार हैं।

img 20210802 wa00073502493553570109789
img 20210802 wa00066720619203171640379

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker