uncategorized

MP- सेठ आलीशान कोठी में संभाल रखा है कई क्विंटल कचरा, पत्नी ने कलेक्टर व CM से की शिकायत

तीन मंजिला मकान की छत पर कपड़ा व्यापारी ने कचरा जमा करना शुरू किया था। कचरे की बदबू से मोहल्ले और परिवार के लोग परेशान हो गए थे। पत्नी ने इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में की थी। इसके बाद कार्रवाई हुई है।

मुरैना। अभी तक लोगों के यहां छापे में नोट व जेवर मिलने की खबर तो कई बार सुनने और देखने को मिली होगीं। लेकिन मुरैना के सदर बाजार में एक तीन मंजिला मकान में कई ट्रॉली कचरा और कई केन में सड़ा हुआ आचार और नीबू के छिलके भरे मिले हैं। सेठ की पत्नी ने कलेक्टर व सीएम हेल्पलाइन में शिकायत के बाद नगर निगम ने मकान की सफाई की है। बता दे कि तीन मंजिला मकान की छत पर कपड़ा व्यापारी ने कचरा जमा करना शुरू किया था। कचरे की बदबू से मोहल्ले और परिवार के लोग परेशान हो गए थे। पत्नी ने इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में की थी। इसके बाद कार्रवाई हुई है।

दरअसल, मुरैना के सदर बाजार में रहने वाले योगेश गुप्ता को कायदे से स्वच्छता का ब्रांड एंबेसडर बना दिया जाना चाहिए। इनकी खासियत है कि ये दिनभर बाजार से कचरा बीनकर अपने घर की छत पर इकट्ठा करते हैं। उनके घर से कई टन कचरा निकला है। इतना कचरा कि मुख्य बाजार की गली भर गई। छत पर कचरे से भरी कई टंकियां भी मिलीं हैं। व्यापारी के इस शौक से प्रदेश के लोग हैरान हैं। वहीं, मोहल्ले के लोगों को भी समझ नहीं आता था कि वह घर की छत पर कचरा क्यों जमा करते हैं।

8 ट्रॉली निकला कचरा अधिकतर लोगों को पैसा, जेवर, जायदाद, कपड़े या ऐसी ही चीजें जमा करने की दीवानगी होती है। मुरैना में एक कारोबारी ने जो किया, वो कुछ अलग ही है। यहां के एक कपड़ा कारोबारी के यहां से 8 ट्रॉली कचरा निकला है। नगर निगम कर्मचारियों ने जब घर से कचरा निकालना शुरू किया तो गली पट गई। कपड़ा कारोबारी का नाम योगेश गुप्ता है। वे सदर बाजार में रहते हैं। उनका तीन मंजिला मकान है। योगेश को कचरा जमा करने का शगल है।

कचरा इतना कि बुलानी पड़ी जेसीबी
वहीं, कचरा इतना ज्यादा था कि नगर निगम को बटोरने के लिए जेसीबी मशीन बुलानी पड़ी है। इसे देखने के लिए मोहल्ले के लोग जमा हो गए थे। आज तक व्यापारी ने किसी को बताया भी नहीं कि उसने घर की छत पर कचरा क्यों जमा किया। पड़ोसी बताते हैं कि योगेश गुप्ता रोज सुबह सदर बाजार में दुकानों के सामने पानी का छिड़काव करते हैं। रात में अखबार जलाकर अपनी दुकान की आरती उतारते हैं। इसके साथ ही नगर निगम ने उन्हें चेतावनी दी है कि आगे से ऐसा किया तो कार्रवाई करेंगे।

Back to top button