MP में दो सिर और तीन हाथ वाले अनोखे बच्‍चे का जन्‍म,डॉक्टर बोले- साइंस का चमत्कार, देखिए तस्वीर

मध्य प्रदेश के रतलाम में एक महिला ने ऐसे अनोखे बच्चे को जन्म दिया है। जिसके दो सिर और तीन हाथ हैं। जिसे देख डॉक्टरों का कहना है कि करोड़ों में ऐसा एक केस होता है। सांइस की भाषा में इसे चमत्कार और पोलीसेफली कंडीशन कहते हैं। बच्चे की हालत स्थिर है और उसे सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है।

रतलाम । मध्य प्रदेश के रतलाम में पिछले बुधवार को एक अनोखे बच्चे का जन्म हुआ। इस बच्चे के दो सिर और तीन हाथ हैं। माई हॉस्पिटल, इंदौर के डॉ. ब्रजेश लाहोटी ने कहा कि इसे डिसेफैलिक पैरापैगस कहा जाता है जो आंशिक जुड़वां का एक दुर्लभ रूप है। मिली जानकारी के मुताबिक बच्चा अभी भी सपोर्ट सिस्टम पर है और उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है.

सोमवार को जवारा की एक लमहिला ने जिला अस्पताल में दो सिर, दो पैर और तीन हाथ वाले बच्चे को जन्म दिया. दोनों बच्चों की कमर का निचला हिस्सा आपस में जुड़ा होता है। बच्चे को देख डॉक्टर भी हैरान रह गए। चिकित्सा विज्ञान में ऐसा बच्चा लाखों में एक पैदा होता है। जिला अस्पताल में बाल चिकित्सा गहन चिकित्सा इकाई के प्रभारी डॉ. नावेद कुरैशी ने बताया कि जवारा नीमचौक निवासी 20 वर्षीय शाहीन पत्नी सोहेल ने सोमवार शाम करीब साढ़े सात बजे ऑपरेशन के जरिए बच्चे को जन्म दिया। बच्चे के दो सिर, दो पैर और तीन हाथ हैं। जन्म के तुरंत बाद बच्चे को ऑक्सीजन दी गई। ऐसे बच्चों के आमतौर पर जीवित रहने की संभावना कम होती है। परिजनों ने बेहतर इलाज की इच्छा जताई है, जिसके लिए बच्चे को इंदौर रेफर कर दिया गया है। ऑपरेशन द्वारा प्रसव होने से मां का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

डॉ नावेद ने कहा कि बच्चे का एमआरआई कराने के बाद शरीर के अन्य अंगों के बारे में स्पष्ट जानकारी मिल सकेगी. ऐसे मामलों में विशेष उपचार की आवश्यकता होती है। हालत काफी गंभीर बताई जा रही है बच्चों को बचा पाना मुश्किल है लेकिन नामुमकिन भी नहीं। फिलहाल चौबीसों घंटा बच्चे में नजर बनाए रखे है।

Back to top button