MP. रीवा में चला ‘मामा का बुलडोजर’, तोड़ा बाहुबली संजय त्रिपाठी का अतिक्रमण

रविवार को रीवा प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बाहुबली संजय त्रिपाठी के निर्माणाधीन परिसर को गिराने की कार्रवाई शुरू कर दी है. यह परिसर शहर के पादरा में रेलवे जंक्शन के पास स्थित है।

MP News : आपराधिक मामलों में लिप्त भू-माफियाओं के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा भू-माफिया विरोधी अभियान चलाया जा रहा है. जिसके तहत रविवार को रीवा प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बाहुबली संजय त्रिपाठी के निर्माणाधीन परिसर को गिराने की कार्रवाई शुरू कर दी है. यह परिसर शहर के पादरा में रेलवे जंक्शन के पास स्थित है।

निर्माणाधीन परिसर को प्रशासन द्वारा तोड़ा जा रहा है. इस बारे में रीवा के एसडीएम अनुराग तिवारी ने बताया कि उक्त भवन का कुछ हिस्सा सरकारी जमीन पर बना हुआ है और नगर निगम में नक्शे के नियमों का पालन नहीं किया गया है. सरकारी जमीन में नक्शे के खिलाफ बने भवन को गिराने की कार्रवाई की जा रही है।

इमारत को गिराने के लिए जिला प्रशासन और नगर निगम के कर्मचारियों ने दो जेसीबी और चार मंजिला इमारत को गिराने के लिए ड्रिल मशीन भी लगाई है. इसके चलते पक्के भवन को तोड़ा जा रहा है। इस कार्रवाई में जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम अनुराग तिवारी, नगर निगम के तहसीलदार यतींद्र शुक्ल, एसके चूड़तर्वेदी सहित अतिक्रमण दस्ते के अमले, वहीं सीएसपी मनोज वर्मा, सीएसपी सचितानंद, सिविल लाइन थाना प्रभारी हितेंद्रनाथ शर्मा साथ में नगर थाना प्रभारी व भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। इतना ही नहीं पुलिस लाइन की ओर से मौके पर काले कपड़ों में कमांडो की टीम भी तैनात कर दी गई है।

निर्माणाधीन परिसर को संजय त्रिपाठी द्वारा ध्वस्त किया जा रहा है। बता दें कि संजय त्रिपाठी पर रजनीवास में नाबालिग लड़की से रेप के आरोपी महंत सीताराम को सुरक्षा देने का आरोप है. पुलिस ने उसे भोपाल से गिरफ्तार कर रीवा सेंट्रल जेल में बंद कर दिया है।

Back to top button