MP Weather: मप्र में फिर बदला मौसम, जानिए अपने शहर का मिजाज, इस राज्य में भारी बारिश

भोपाल । मध्य प्रदेश (MP Weather Change) में मौसम ने एक बार फिर करबट ली है पश्चिमी बिखराव के कारण 4-5 दिनों के लिए बारिश का ब्रेक है। पिछले 24 घंटों में इंदौर, जबलपुर और होशंगाबाद संभागीय जिलों में छिटपुट बारिश दर्ज की गई है. रीवा शहडोल सतना सीधी सिंगरौली में बादल छाए हुए हैं। मप्र मौसम विभाग ने 23 नवंबर 2021 को कहीं भी बारिश की भविष्यवाणी नहीं की थी, मतलब आज मौसम शुष्क रहने वाला है। वही हवा की गति भी बढ़कर 12 किमी/घंटा हो गई।

मौसम विभाग (एमपी वेदर फोरकास्ट) के मुताबिक, सोमवार से बादल छंटने लगे हैं और हवा की दिशा भी उत्तर की ओर हो गई है, इसलिए दिन के तापमान में बदलाव कम होने के बावजूद रात के तापमान में बढ़ोतरी हुई है. वर्तमान में 4 सिस्टम सक्रिय हैं। अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी की वजह से राजधानी समेत राज्य के अधिकतर जिलों में बादल छाए हुए हैं, लेकिन आज रात से तापमान में गिरावट आ सकती है और मौसम साफ रहने की संभावना है. अगले सप्ताह से ठंड और बढ़ेगी। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी से 3-4 दिन बाद ठंड पड़ेगी और तापमान में भी उतार-चढ़ाव होगा.

मौसम विभाग (एमपी वेदर अपडेट) के अनुसार, भोपाल में सोमवार को अधिकतम तापमान 30.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक है, लेकिन रविवार को अधिकतम तापमान से 0.2 डिग्री सेल्सियस कम है। सोमवार को न्यूनतम तापमान 20.1 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। यह सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस अधिक है।जबलपुर में सुबह का न्यूनतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस रहा। ग्वालियर की बात करें तो जम्मू-कश्मीर की बर्फीली हवाओं के चलते रात का तापमान गिरकर 8 डिग्री पर आ गया, जिससे ठिठुरन बढ़ गई. अगले 24 घंटों में तापमान में और गिरावट आने की संभावना जताई जा रही है।

अन्य राज्यों की स्थिति

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, अगले पांच दिनों में केरल, कर्नाटक, माहे, तमिलनाडु, पांडिचेरी और कराईकल में मध्यम से भारी बारिश की संभावना है। 24 से 26 नवंबर के बीच तमिलनाडु, पांडिचेरी और कराईकल में भारी बारिश की संभावना है। अगले दो दिनों में उत्तर-पश्चिम और इससे सटे मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 2-4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है। 23-24 नवंबर को, पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान के अलग-अलग इलाकों में शीतलहर चलने की बजह से ठंड का अनुभव होगा।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker