Qawwal Sharif Parwaz Arrested: देश के खिलाफ जहर उगलने वाला कव्वाल कानपुर से गिरफ्तार, रीवा कोर्ट ने जेल भेजा

हिंदुस्तान को लेकर विवादित बयान देकर सुर्खियों में आए कव्वाल शरीफ परवाज को रीवा पुलिस ने कानपुर से गिरफ्तार किया है. सोमवार को रीवा को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

रीवा- जिले के मनगवा में 26 मार्च को आयोजित उर्स मेले में हिंदुस्तान को लेकर कव्वाल शरीफ परवाज को विवादित बयान देना महंगा पड़ गया है अब रीवा पुलिस ने विवादित बयान देने पर कव्वाल शरीफ परवाज को कानपुर से गिरफ्तार किया है. सोमवार को रीवा को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

रीवा के पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने बताया कि विकास गुप्ता की रिपोर्ट पर शरीफ परवाज समेत उर्स कमेटी के निदेशक के खिलाफ मनगवा थाने में मामला दर्ज किया गया है. जिसके बाद रीवा पुलिस चार दिन तक कानपुर में ही डेरा डाले रही। इस दौरान कई बार टीम ने कव्वाल के घर पर भी दबिश दी, लेकिन वह पुलिस के हाथ नहीं लगा। आखिरकार साइबर सेल की मदद से मिली लोकेशन के आधार पर कानपुर रेलवे स्टेशन से 100 मीटर दूर दबिश देकर कव्वाल को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के समय कानपुर पुलिस भी मौजूद थी।

बता दें कि रीवा जिले के मनगवा थाना क्षेत्र के मलकपुर तालाब में 26 मार्च को ईदगाह और उर्स कमेटी की ओर से कव्वाली का आयोजन किया गया था. उनकी टीम में कानपुर के कव्वाल शरीफ परवाज भी शामिल थे। उन्होंने कव्वाली के दौरान हिंदुस्तान पर एक टिप्पणी की थी, जिसके बाद वह विवादों में आ गए थे। कव्वाल नवाज शरीफ ने कहा था कि- मोदी जी कहते हैं हम हैं, योगी जी कहते हैं हम हैं, अमित शाह कहते हैं हम हैं। अगर गरीब नवाज (अजमेर दरगाह) चाह ले तो हिंदुस्तान का पता नहीं चलेगा कि वह कहां बसे थे, कहां थे. ये वलियों का वो मुकाम है कि अगर नजर फेर लेते हैं, तो पूरे शहर वीरान कर देते हैं।  जरा इतिहास पढ़िए तो पता चल जाएगा। इस टिप्पणी पर रीवा में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इसके बाद मध्य प्रदेश पुलिस की दो टीमें उसे पकड़ने कानपुर गई थीं।

मामले में राज्य के गृह मंत्री ने यह भी कहा था कि कव्वाल से मेरा अनुरोध है कि डोगरी, दादरा, ख्याल कुछ भी गाएं, लेकिन देश के खिलाफ गाने का विचार हटा दें. लेखक बनो, गायक बनो, कवि बनो सब ठीक हैं । देशद्रोही विचारों को दिल से निकालो। क्योंकि यह राष्ट्रवाद का युग है। अब राष्ट्रवादी सरकार है। यह उस तरह से काम नहीं करेगा।

हालांकि बयान पर विवाद बढ़ने के बाद कव्वाल शरीफ परवाज ने वीडियो जारी किया था। इसमें उन्होंने कहा- हिंदू भाइयों को नमस्कार, शिष्टाचार। एक कार्यक्रम मैंने पिछले दिन मंगवां में किया था। वहीं से एक वीडियो वायरल हो रहा है. मैंने वहां कुछ गलत नहीं कहा। मैंने कहा था कि हमारे पास भी मोदी जी हैं। यहाँ योगी भी हैं। अमित शाह भी हैं। मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है। उनसे बड़ा कौन है, जो अल्लाह से बड़ा है, ईश्वर भी भगवान के समान महान है। तो उनकी बात सिर की आंखों पर। मोदी मेरे दिल में है। मेरी जिंदगी में योगी और अमित शाह हैं। मैंने उनसे नहीं पूछा। किसी की ओर इशारा नहीं कर रहा था। इशारा गरीब नवाज की तरफ था।

Back to top button