Singrauli : छात्र स्कूल छोड़ जनसुनवाई में पहुंच कलेक्टर से लगाई गुहार,बोले-प्रभारी प्राचार्य नि:शक्तो को भी नही छोड़ा

The students left the school and appealed to the collector to reach the public hearing, said the principal in charge did not leave even the disabled

सिंगरौली 23 नवम्बर। कलेक्टोरेट में आयोजित जनसुनवाई में हाई स्कूल मलगो के प्राचार्य को हटाने, पीएम सम्मान निधि का लाभ दिलाने, मनमानी बिजली बिल से राहत व प्रधानमंत्री आवास दिलाये जाने सहित अन्य समस्याओं को लेकर आमजन आवेदन दिये।

आज मंगलवार को जनसुनवाई में पहुंचे 9 वीं, 10 वीं के करीब दो दर्जन छात्रों ने कलेक्टर को अवगत कराते हुए बताया कि शासकीय हाई स्कूल मलगो के प्रभारी प्राचार्य गयासुद्दीन सिद्दीकी अंगे्रजी विषय के शिक्षक हैं। 5 अगस्त से स्कूल संचालित हो रही है, लेकिन उनके द्वारा अंग्रेजी विषय का एक भी पाठ नहीं पढ़ाया गया है। अभी कुछ दिन पहले आये अंग्रेजी विषय के शिक्षक रमेश ओझा पाठ्यक्रम को पढ़ा रहे हैं। प्रभारी प्राचार्य द्वारा हर दूसरे-तीसरे दिन समय सारिणी बदली जाती है। जिससे शिक्षकों को पढ़ाने में समस्या आ रही है। संबल कार्ड योजना का लाभ न मिलने पर 181 में शिकायत की गयी तो बच्चों को डराने धमकाने के साथ-साथ मारपीट करते हुए मानसिक रूप से प्रताडि़त करते हैं। वहीं परीक्षा शुल्क 1 हजार रूपये प्रति छात्र व नामांकन शुल्क 350 रूपये तथा दिव्यांग छात्र-छात्राओं के लिए सरकार ने शुल्क माफ किया है लेकिन उनके द्वारा फीस ले ली गयी है। इसके संबंध में 181 में शिकायत करने पर बोर्ड परीक्षा के प्रेक्टिकल व प्रोजेक्ट में फेल करने की धमकी दी जाती है। जिससे मानसिक रूप से परेशान हम छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। जहां बच्चों ने प्रभारी प्राचार्य को अन्यत्र स्थानांतरित किये जाने की मांग कलेक्टर से की है। वहीं कलेक्टर ने जनसुनवाई में ही जिला शिक्षा अधिकारी रोहिणी पाण्डेय को तत्काल विद्यालय में जाकर मामले की जांच पड़ताल करते हुए उचित कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया है।

पीएम सम्मान निधि से वंचित है किसान
जनसुनवाई में रौंदी निवासी कविता साकेत ने कलेक्टर को आवेदन पत्र देते हुए अवगत कराया कि प्रार्थिया को पीएम किसान योजना की राशि नहीं मिल रही है। जबकि इसके लिए हल्का पटवारी को कई बार आवेदन दिया गया है। लेकिन पटवारी द्वारा प्रधानमंत्री व मुख्य किसान योजना का लाभ दिलाये जाने नाम नहीं जोड़ा गया है। पात्र हितग्राहियों की सूची में नाम जोड़वाते हुए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि दिलायी जाय।

100 के बदले 8 हजार रू.का आया बिजली बिल
गहिलगढ़ पश्चिम निवासी श्यामलाल बंसल ने कलेक्टर को आवेदन देते हुए बताया कि पहले प्रार्थी को 100 रूपये प्रतिमाह विद्युत बिल आती थी जिसका भुगतान प्रार्थी प्रति महीने कर भी देता था। लेकिन अक्टूबर महीने में अचानक 8677 रूपये की बिल आने से प्रार्थी काफी परेशान है। जिससे बिजली का बिल जमा करने में असमर्थ है। उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर ने उचित कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया।

पीएम आवास दिलाने की मांग
जनसुनवाई में तिनगुड़ी गांव निवासी निजामुद्दीन व व कोयलखूथ भंवर सिंह ने आवेदन पत्र देते हुए बताया कि सरपंच, सचिव को कई बार प्रधानमंत्री आवास दिलाये जाने के लिए आवेदन पत्र दिया गया है। लेकिन अभी तक आवास दिलाये जाने के लिए सरपंच-सचिव द्वारा आवेदन पत्र पर कोई अमल नहीं किया गया है। जिस पर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को मामले की जांच करा योजना का लाभ दिलाये जाने के लिए निर्देशित किया।

ध्वस्त नालियों की मरम्मत कराने की मांग
जनसुनवाई में वार्ड क्र.41 व 42 में ननि द्वारा एक संविदाकार से नालियों का निर्माण कराया गया था। इस दौरान संविदाकार द्वारा नाली निर्माण कार्य वार्ड क्र.41 एस्सार टाउनशिप रोड गनियारी बस्ती एवं वार्ड क्र.42 बिलौंजी तेलियान बस्ती में किये जाने के दौरान कार्य में लापरवाही बरती गयी थी जिससे नालियां क्षतिग्रस्त हो गयी हैं और नालियों का पानी सड़कों पर बह रहा है। जिससे रहवासी परेशान हैं। नालियों को ननि अधिकारियों द्वारा जांच कर पुन: निर्माण कराया जाय।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker