SINGRAULI : बहन को वीडियो कॉल कर बनाया फांसी का फंदा, किया लाइव सुसाइड,बहन ने दी अपनी कसम लेकिन एक नही सुनी

आखिरी बार बहन को वीडियो काँल करके बात किया, और 28 वर्षीय प्रकाश पनिका ने फाँसी लगाकर की आत्महत्या, मामला भुईमाड़ थाना अन्तर्गत देवरी गांव का

भुईमाड़। सीधी जिले आदिवासी विकासखंड कुशमी के भुईमाड़ थाना अन्तर्गत देवरी गांव के प्रकाश पनिका उम्र 28 वर्ष पिता प्रेमलाल पनिका ने मंगलवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया, मृतक के बडी बहन का कहना है उसका भाई प्रकाश पनिका पहले अपने जीजा के नंबर मे यनि अपनी बहन के पति के मोबाइल पर वीडियो काँल किया और बोला मै आत्महत्या कर रहा हूँ, जिसके बाद मृतक ड्यूटी से दौरे दौरे घर आये और और मृतक की बहन को बतायें कि प्रकाश फांसी लगा रहा है, तुम उसे मना करों, उस दरमियान फोन चालू रहा, जिसके बाद मृतक की बहन ज्योति ने वीडियों काँल के जरिये उसके बात करते हुए मना करती रही भाई तू ऐसा ना कर, भाई तुझे जो भी समस्या हो बताओं और मेरे से कहों, इतना तक की बहन कसम देती रही कि तुम्हें मेरी कसम, लेकिन मृतक भाई प्रकाश ने एक ना सुनी और फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, जिसके बाद मृतक की बहन वहाँ पर रह रहे आस पड़ोस के लोगों को फोन और घटना की जानकारी दी, जानकारी मिलते ही लोग देखने पहुंचे तो दरवाजा दोनों तरफ बंद था, जिससे बाद पीछे खिडक़ी से देखा तो मृत्यु हो चुकी थी।

प्रोड्यूसर ‘मल्लिका शेरावत’ की कमर पर पकाना चाहते थे चपाती, बताया ‘हॉट सॉन्ग’ का किस्सा – विंध्य न्यूज

मृतक की बहन के बतायें मुताबिक मृतक प्रकाश पनिका जिसका उम्र 28 थी, जो घटना की समय पर अकेला ही था, वही इस घटना के बंद बहन ने जानकारी देते हुए बताया कि पिता प्रेमलाल पनिका काँलरी मे नौकरी करते थे एक डेढ़ पहले ही रिटायर्ड हुए थे जिसके बाद वह देवरी मे घर वनवा कर सभी लोग देवरी मे ही रह रहे थे, लेकिन विगत एक डेढ़ माह पहले माता पिता एवं बडा भाई खोंगापनी रहते थे, तो वहीं उसी गांव वहाँ से कुछ दूर बहन अपने घर खोंगापानी रहती थी। करीब डेढ़ महीने से मृतक घर के किसी भी से बात तक नहीं करता था, जो भी बात हुआ करता था वो सिर्फ अपनी बहन एवं अपने जीजा से कहाँ करता था, मृतक लोग दो भाई एक बहन थे, जिसमें मृतक सबसे छोटा भाई था। बहन के बताए अनुसार मृतक के साथ उसके माता पिता एवं भाई सही व्यवहार नहीं करते थे, एवं उसके बात भी नहीं करते घर घर पर अकेला छोड़ दिये दिये थे,उसके बाद से ही मृतक काफी परेशान रहा करता था, उसके पास वर्तमान समय पर पैसा रूपए भी नहीं थे, कमाने के लिए एक गाडी थी, जो बुकिंग मे जाकर कमाने का साधन था,वो भी छीन लिए,परिवार वाले डेढ़ माह से उसके बात भी नहीं करते थे शायद इन्हीं सभी कारणों से तंग आकार उसने आत्महत्या की।

वो पल जीवन में कभी नहीं भूल पाऊँगी मृतक की बहन ज्योति ने बताया कि वह पल जिंदगी का सबसे दुख भरा पल था, और वह पल मै कभी नहीं भूल पाऊंगी, मेरा छोटा भाई मुझसे वीडियो काँल पर बात करते हुए, फांसी का फंदा तैयार किया, ऐ सब देख मै सन्न रह गई और मना करती लेकिन वो एक ना माना और फांसी के फंदे पर झूलने के पहले एक बार बहन की तरफ मोबाइल पर देखा देखकर मुस्कुराया और फांसी पर झूल लटक गया,वो पल मै कभी नहीं भूल पाऊँगी।

परिवार से नराजगी आई सामने
मामले में परिवार से प्रकाश की नराजगी सामने आई हैं, जानकारी के मुताबिक मृतक के पिता प्रेमलाल पनिका काँलरी से रिटायर्ड होकर देवरी गांव में घर वनवा कर रह रहे थे, विगत डेढ़ माह पूर्व से खोंगापानी मे रह रहे थे, बडा बेटा भी उन्हीं के साथ था, जबकि छोटा बेटा मृतक देवरी मे था, वो भी घर पर अकेला ही था, मृतक की शादी भी नहीं हुई थी, बहन के बतायें अनुसार नाराजगी इतना थी कि वह घर पर किसी से बात नहीं करता था, सिर्फ अपनी बहन और जीजा से बात करता था, इसी अवसाद मे आत्मघाती कदम उठाए जाने की अशंका जताई जा रही हैं।

बहन ने फोनकर गांव के लोगों को भेजा मृतक प्रकाश पनिका जब बहन से वीडियो काँल पर बात करते फांसी के फंदे पर लटक गया तब बहन ने गांव के लोगों को फोन लगाकर घटना की सूचना दी, जब तक ग्रामीण पहुंचे तब मृत्यु हो चुकी थी, जिसके बाद माता पिता एवं बडे भाई के साथ बहन भी सुबह देवरी गांव पहुंची, जहां सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा तैयार करते शव को पोस्टमार्टम उपरांत शव को परिजनों को सौप दिया है, जिसके बाद अब भुईमाड़ पुलिस जांच मे जुट गई है।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker