SINGRAULI: सत्ता की हनक – बीच सड़क पर पूर्व भाजयुमो नेता की दादागिरी, वाहन चालक की कर दी पिटाई

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष के साख पर लगा रहा बट्टा, दो महीने के दौरान यह दूसरी वारदात 

सिंगरौली 11 अगस्त। सत्ता का गुरुर अगर देखना है तो भाजपा पार्टी के पदाधिकारियों की चहेते गुर्गो का देखना चाहिए . सियासत का नशा तो जैसे इनके सर चढ़ कर बोलता है. सत्ता की हनक ऐसी की यह कुछ भी कर गुजरने से पीछे नहीं हटते हैं कुछ ऐसा ही दिखा सिंगरौली जिले में जहां जयंत-मोरवा के मध्य मेढ़ौली में साइड को लेकर तमतमाये पूर्व भाजयुमो नेता ने अपना आपा खो बैठा और एक वाहन चालक के साथ बीच सड़क में ही दादागिरी दिखाते हुए मारपीट शुरू कर दिया। पीड़ित मोरवा थाना पहुंच आरोपी पूर्व भाजयुमो नेता पुनीत शुक्ला सहित एक अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराया है। आरोपी पुनीत शुक्ला भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष कांतशीर्ष देव सिंह का काफी करीबी माना जाता है। यह वारदात आज बुधवार की बतायी जा रही है। 


जानकारी के अनुसार जयंत-मोरवा मार्ग के मेढ़ौली कोल खदान के पास वाहनों का लंबा जाम लगा हुआ था। इसी दौरान भाजयुमो के निष्कासित पूर्व उपाध्यक्ष पुनीत शुक्ला भी जाम में फसा हुआ था। पुनीत शुक्ला के वाहन के आगे मेढ़ौली निवासी रमेश केवट नामक युवक का भी वाहन आगे था। जाम छूटने के पहले पुनीत साइड लेने के लिए हार्न बजा रहा था, किन्तु लंबा जाम होने के कारण रमेश साइड नहीं दे पाया और जैसे ही जाम हटा रमेश के वाहन से साइड लेते हुए पुनीत शुक्ला आगे गया और उसके वाहन को मेढ़ौली के बीच सड़क पर खड़ा कराते हुए फरियादी रमेश का फिल्मी स्टाइल से कालर पकड़ अपने गुर्गों के साथ मारपीट शुरू कर दिया। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। पीड़ित युवक किसी तरह इनके चंगुल से बाहर निकला और मोरवा थाने में पहुंच आपबीती सुनाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराया। फरियादी की रिपोर्ट पर मोरवा पुलिस ने आरोपी पुनीत शुक्ला एवं एक अन्य के विरूद्ध भादवि की धारा 294,323,506,34 के तहत अपराध पंजीबद्ध करते हुए मामले की विवेचना शुरू कर दी है। 

आरोपी प्रदेश उपाध्यक्ष का है काफी करीबी 

मेढ़ौली के बीच सड़क पर पूर्व भाजयुमो नेता पुनीत शुक्ला एवं उसके अन्य साथियों द्वारा मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है और यहां तक लिखा जा रहा है कि आरोपी चर्चित चेहरा भारतीय जनता पार्टी प्रदेश उपाध्यक्ष का काफी करीबी माना जाता है। जिसके चलते खाकी बर्दी भी अनसुनी करने का प्रयास करती है। आरोप है कि सत्ता के गुरूर में चूर उक्त पूर्व भाजयुमो नेता को संरक्षण मिला हुआ है। जिसके चलते सोशल मीडिया में अक्सर भाजपा के कुछ दिग्गज नेताओं पर उल्टा-सीधा कमेंट्स भी करता रहता है। जिसके चलते एक साल पूर्व उसे भाजपा से निष्कासित भी कर दिया गया। 

ट्रक चालक के साथ भी कर चुका है मारपीट 

विन्ध्यनगर थाना क्षेत्र के जयंत सड़क मार्ग में 13 जून को पुनीत शुक्ला ने ट्रक चालक नरेन्द्र सिंह यादव के साथ मारपीट किया था। फरियादी की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के विरूद्ध भादवि की धारा 294,323,506 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया था। उस दौरान भी भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष की खूब किरकिरी हो रही थी। इतना ही नहीं सूत्र तो यहां तक बताते हैं कि राजनैतिक दबाव के चलते घटना का बीच-बचाव करने जयंत के एक पुलिस सेवक को लाइन अटैच करा दिया गया।

इस संबंध में जब भाजपा जिला अध्यक्ष वीरेंद्र गोयल से पुनीत शुक्ला पदाधिकारी के बारे में जानने का प्रयास किया गया तो उन्होंने दिल्ली में बैठक होने की बात कहकर कोई जवाब नहीं दिया है

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker