उत्तर प्रदेश

1 अरब 28 करोड़ से तैयार होगा विंध्य कॉरिडोर : अमित शाह ने किया शिलान्यास, सीएम योगी का है ड्रीम प्रोजेक्ट,

उत्तर प्रदेश — सीएम योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट विंध्य कॉरिडोर आखिरकार पंख लग गए है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को विंध्य कारिडोर का शिलान्यास किया। इसके साथ ही परिक्रमा पथ के निर्माण कार्य को हरी झंडी मिल गई। गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को विंध्याचल में मां विंध्यवासिनी के दर्शन पूजन करने के बाद विंध्य कारिडोर का शिलान्यास किया. एक अरब 28 करोड़ की लागत से विंध्य कॉरिडोर तैयार होगा. इसमें मंदिर के चारों तरफ 50 मीटर चौड़ा परिक्रमा पथ भी बनेगा.विंध्याचल मंदिर परिसर में हुए भूमि पूजन व आरती कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल व योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। विंध्य कॉरिडोर के प्रथम फेज की कुल लागत 128 करोड़ रुपये है। वहीं अष्टभुजा व काली खोह पर बने रोप-वे की लागत 16 करोड़ से अधिक है। 

विंध्य कॉरिडोर के बृहद पयर्टन विकास के लिए पर्यटन विभाग द्वारा लगभग 128 करोड़ की कार्ययोजना तैयार की गयी है। जिसमें मां विन्ध्यवासिनी देवी कॉरिडोर तथा मंदिर पर परकोटा एवं परिक्रमा पथ, रोड एवं मेन गेट की अवस्थापना, मंदिर की ओर जाने वाले मार्गों को जोड़ने वाले पहुंच मार्गों को सुदृढ़ीकरण, विंध्याचल मेला परिक्षेत्र में पार्किग, शॉपिंग सेंटर अन्य यात्रियों सुविधाओं के निर्माण कार्य प्रस्तावित हैं। यह जल्द ही साकार रूप लेगा।

परिक्रमा में होती थी समस्या

बता दें कि अब तक मां विंध्याचल दरबार में सकरी एवं तंग गलियो के कारण दर्शनाथियों को आने जाने में खासी समस्या होती थी। लेकिन अब भव्य एवं दिव्य कॉरिडोर बनने से भक्तों को 50 फीट चौड़ी सुविधाजनक यात्रा परिक्रमा पथ एवं प्रमुख 04 मार्गों के चौड़ीकरण से दर्शन में सुविधा होगी। बुर्जुग एवं असहाय बीमार लोग प्राय: अष्टभुजा एवं काली खोह के त्रिकोण दर्शन नहीं कर पाते थे लेकिन रोप-वे के चलते आराम से दर्शन कर सकेंगे। 

योगी की उपलब्धियां गिनाई

गृह मंत्री अमित शाह जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम व योगी आदित्यनाथ के लिए जमकर कसीदे पढ़े। उन्होंने योगी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि ‘यही उत्तर प्रदेश है जिसको यश जाता है 2014 में पूर्ण बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनाने के लिए. यही उत्तर प्रदेश है जिसको यश जाता है सर्वाधिक सीटों के साथ देश भर में 300 सीटों के साथ भाजपा की सरकार बनाने का. यही उत्तर प्रदेश है जिसको यश जाता है 2019 में फिर से एक बाद नरेन्द्र मोदी जी प्रधानमंत्री बनाने के लिए.’अमित शाह ने बोला कि कोरोना की दो लहरों में उत्तर प्रदेश सरकार ने बेहतर कोरोना प्रबंधन किया. योगी जी ने परिश्रम, मेहनत, सूझबूझ और अपनी प्रशासनिक क्षमता से जो कार्य किये, उससे उत्तर प्रदेश लगभग-लगभग कोरोना मुक्त हो रहा है. सबसे ज्यादा टीकाकरण, टैस्टिंग, बेड की व्यवस्था यहीं हुई.

मोदी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश को कैसे आगे ले जाना है

गृह मंत्री शाह ने कहा कि ‘मोदी जी उत्तर प्रदेश से सांसद बनकर देश की संसद में जाते हैं. मोदी जी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश वालों की जरूरत क्या है. मोदी जी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश की अपेक्षा क्या है. मोदी जी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश को कैसे आगे ले जाना है.’

सुरक्षा में 3000 से भी ज्यादा जवान तैनात

इधर, बतौर गृहमंत्री पहली बार मिर्जापुर जिले में आगमन के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद की गई है। तीन हजार से अधिक पुलिसकर्मियों को गृहमंत्री की सुरक्षा में तैनात किया गया है। जिले में गृहमंत्री के आगमन पर पहली बार इस तरह की सुरक्षा देखने को मिली है। पुलिसकर्मियों की तैनाती के अलावा ऐसे भी आदेश जारी किए गए है, जिसमें कार्यक्रम स्थल के आसपास रहने वाले लोगों को बाहरी को घर पर निवास नहीं करने का नोटिस दिया गया है। 

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker