MP News

Sidhi – नाबालिग बच्चियों के अपराधी कानून का उड़ा रहे मजाक,गिरफ्तारी नहीं होने से दहशत में पीड़िता के परिजन

Sidhi — उत्तर प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है और मध्यप्रदेश में भी भाजपा की ही सरकार है लेकिन कानून व्यवस्था दोनों जगहों में अलग-अलग है उत्तर प्रदेश में मासूमों की इज्जत में हाथ डालने वालों की तत्काल गिरफ्तारी कर घर तक जमींदोज किया जाता है तो वहीं मध्यप्रदेश में 7 साल से कम सजा की गिरफ्तारी नहीं होने का हवाला देकर अपराधियों को खुला छोड़ दिया जाता है जिससे कि अपराधी पीड़िता तथा परिजनों को गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देते फिर रहे हैं.Sidhi

बता दें कि नाबालिगों के साथ अत्याचार करने वाले अपराधी खुलेआम धमकी दे रहे हैं कि हम जालसाजी करके गंभीर धाराओं में फसा कर मुकदमा दर्ज करवाएंगें. नहीं तो अपना केस वापस कर लो उसमें भी वापस नहीं किए तो गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देते रहते हैं और इस देश का कानून का मुंह चढ़ा कर हंसते हैं. इसका मुख्य कारण यह है कि मध्यप्रदेश में अभी भी जनप्रतिनिधि अपराधियों को बचाने का संरक्षण देने का काम करते हैं इसका ताजा उदाहरण जिला मुख्यालय से 45 किलोमीटर दूर स्थित मड़वास चौकी में नाबालिग छात्रा के साथ छेड़छाड़ के मामले को लेकर देखने को मिला था.Sidhi
एक कांग्रेस के नेता आरोपी को बचाने पहुंच गए और पीड़िता को समझौता करने के लिए दबाव बनाने लगे पीड़िता ने जब समझौता नहीं किया तो कानून का कद छोटा हो गया और आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई जिसमें आरोपी आए दिन अश्लील गाली गलौज कर मारपीट की धमकी देते रहते हैं जिसमें पीड़ित परिजनो को शर्मिंदगी झेलनी पड़ती है. अपराध अपराधी कर रहे हैं और रोज थोड़ी थोड़ी बहुत पीड़ित तथा परिजनों की हो रही है.Sidhi

बढ़ता ही जा रहा है जुल्म

सीधी जिले में इस वक्त नाबालिग बच्चियों पर अपराध होने का मामला पहले नंबर पर मझौली थाना की मड़वास चौकी है. जहां महीने भर के अंदर एक दर्जन के अंदर नाबालिगों से छेड़छाड़ तथा घर में घुसकर दुष्कर्म करने की कोशिश का मामला सामने आया है कुछ मामले मड़वास पुलिस तक पहुंचे तो कुछ रास्ते में ही दम तोड़ दिए इसका मुख्य कारण यह है कि समय से अपराधियों पर कार्यवाही ना होना और अपराधी तथा नेताओं के द्वारा समझौता करना पाया गया है. अगर बच्चियों के ऊपर हो रहे पहले अपराध में ही आरोपियों की गिरफ्तारी हो जाए तो अन्य आरोपियों पर दहशत बन जाए लेकिन यहां ऐसा कुछ नहीं है एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि 7 साल से कम सजा वाले धाराओं में गिरफ्तारी का प्रावधान नहीं है।वहीं अब बच्चियों पर जुल्म कर रहे आरोपियों का जुल्म  बढ़ता ही जा रहा है.Sidhi

ये है पूरा मामला

बीते दिनों मड़वास चौकी अंतर्गत दसवीं क्लास की छात्रा से आरोपी रहीस गुप्ता पिता लक्ष्मण प्रसाद गुप्ता रास्ते में रोककर छेड़छाड़ कर रहा था. जहां छात्रा अपने घर जाकर पूरी घटनाक्रम बताई और बोली कि आरोपी आज 6 महीने से लगातार मुझे परेशान कर रहा है फोन मैसेज कर रहा है टॉर्चर कर रहा है. तब जाकर परिजन मड़वास पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जहां पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (घ) 294 506 341 11व्ही 12 पास्को एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर ली पर आरोपी की गिरफ्तारी महीनों बीत जाने के बाद नहीं की है.Sidhi
आरोपी आए दिन पीड़िता के परिजन तथा रिश्तेदारों को अश्लील गाली गलौज कर गंभीर मुकदमे में फंसा देने की धमकी देते हुए बोल रहे हैं कि अपना मुकदमा वापस ले लो.हाल ही में बीते 30 अगस्त को शाम 4:00 से 5:00 बजे के लगभग आरोपी रहीस गुप्ता का बड़ा भाई हरीश गुप्ता पीड़िता के परिजनों तथा मौसी की लड़के को अश्लील गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी दे रहा है. हालांकि पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने गुंडा एक्ट लगाकर कार्रवाई करने की बात कही है.Sidhi

समझौते के लिए दबाव

मामला दर्ज होते ही मड़वास अंचल के कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने सीधे पुलिस चौकी में बैठकर समझौते का दबाव बना रहे थे, जब पीड़िता ने मना कर दी तब नेता जी ने सांठगांठ कर आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने के लिए पुलिस पर दबाव बनाना शुरू कर दिए.
हालात यह है कि अब आरोपी आए दिन गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए केस वापस लेने के दबाव बना रहे हैं लेकिन पुलिस का कहना है कि 7 साल से कम सजा के मामला में गिरफ्तारी संभव नहीं है। देखना यह होगा कि आरोपी की गिरफ्तारी होगी या फिर कोई बड़ी वारदात करने में अपराधी कामयाब हो जायेंगे.Sidhi

Also Read : Urfi Javed हुईं टॉपलेस, अब बदन पर चांदी के पत्तों को चिपकाया, video viral

Sidhi - नाबालिग बच्चियों के अपराधी कानून का उड़ा रहे मजाक,गिरफ्तारी नहीं होने से दहशत में पीड़िता के परिजन
photo by google

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker