MP News

Singrauli News: नवागत निगमायुक्त के सामने नगर की हैं कई चुनौतियां, कमीशनखोरी से निपटने उठाने होंगे कठोर कदम, 4 योजनाएं चढ़ी भ्रष्टाचार की भेट

snn


सिंगरौली 28 सितम्बर। नगर पालिक निगम सिंगरौली के निगमायुक्त पवन सिंह ने आज बुधवार को पदभार ग्रहण कर लिया है। नवागत निगमायुक्त के सामने नगर निगम में व्याप्त भ्रष्ट्राचार एवं अन्य चुनौतियों का भी सामना करना पड़ेगा.


गौरतलब हो कि पिछले सप्ताह नगर पालिक निगम सिंगरौली के आयुक्त आरपी सिंह का हृदयगति रूकने से निधन हो गया था। कलेक्टर ने वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में जिला पंचायत सीईओ साकेत मालवीय को निगमायुक्त का अतिरिक्त प्रभार सौंपा था। वहीं तीसरे दिन राज्य शासन नगरीय एवं प्रशासन ने पवन सिंह को बतौर निगमायुक्त के रूप में पदस्थापना की गयी।

आज बुधवार को नवागत निगमायुक्त ने पदभार ग्रहण करते हुए सबसे पहले दफ्तर में मौजूद स्टाफ से परिचय किया इसके बाद उन्होंने ननि क्षेत्र के कार्यों एवं योजनाओं के प्रगति की समीक्षा किये। इधर निगमायुक्त के पदभार ग्रहण करने के बाद इस बात की चर्चा है कि नगर निगम की महत्वाकांक्षी नल जल योजना, सिवरेज पाईप लाईन, प्रधानमंत्री आवास योजना में हुई धांधली सहित निर्माण कार्यों की गुणवत्ता को परख लिये तो ननि के चर्चित अधिकारियों की पोल खुल जायेगी।

नवागत आयुक्त के सामने नगर निगम में व्याप्त भ्रष्ट्राचार, कमीशनखोरी, गुणवत्ताविहीन निर्माण कार्य पूर्व आयुक्त के सबसे चहेते व दुलारे जिनके पास कई मालदार प्रभार है उनकी कारगुजारियों का पतासाजी कर कार्रवाई करने जैसे अनेकों चुनौतियां हैं। इन चुनौतियों से निपटने के लिए नवागत आयुक्त को सख्त कदम उठाना होगा। अब देखना है कि नवागत आयुक्त इन चुनौतियों से निपटने के लिए क्या-क्या कदम इठाते हैं.


अब कोटेशन वाला खेला होगा खत्म
नवागत निगमायुक्त ने पदभार ग्रहण करते हुए एक के बाद एक आदेश जारी कर कई अधिकारी, कर्मचारियों को सकते में डाल दिया है और उनकी अतिरिक्त कमाई पर भी कैंची चला दिया। आयुक्त पवन सिंह ने आज एक आदेश जारी किया है जिसमें स्पष्ट तौर पर कहा है कि निगम के सभी निर्माण कार्यों, सामग्री खरीदी आदि का कार्य निविदा आमंत्रित, स्वीकृति प्राप्त कर ही करें। किसी भी प्रकार का कोई कोटेशन स्वीकृति नहीं किया जावेगा। अति आवश्यक होने पर चर्चा उपरांत ही कोटेशन प्रस्तुत करें। इस आदेश को तत्कला प्रभाव से लागू कर दिया है.


आरपी बैस एवं सत्यम मिश्रा को मिली अहम जिम्मेदारी
निगमायुक्त ने प्रशासकीय व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए पूर्व प्रसारित आदेशों को निरस्त करते हुए ननि अधिनियम 1956 की धारा 69 (4) के शक्तियों का प्रयोग करते हुए सत्यम मिश्रा उपायुक्त वित्त ननि सिंगरौली को तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के सीपीएफ, वाहनों के पीओएल, विद्युत, टेलीफोन, बिल स्वीकृति, भुगतान करने एवं आरपी बैस उपायुक्त ननि सिंगरौली को तृतीय व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का अर्जित अवकाश एवं वार्षिक वेतनवृद्धि स्वीकृति करने के लिए अधिकृत किया है.


डे बाई डे शाखाओं की होगी समीक्षा


नवागत निगमायुक्त पवन कुमार सिंह ने कार्य करने का तरीका भी पदभार ग्रहण करने के चंद घण्टों के अंदर ही जता दिया है। उन्होंने ननि सिंगरौली के विभिन्न शाखाओं की समीक्षा बैठक आयुक्त हाल में डे बाई डे का शिड्यूल जारी किया है। सोमवार को 11.30 बजे कलेक्टर टीएल, शाम 4 बजे एनयूएलएम, सिटी बस सेवा, मंगलवार को 11.30 बजे जनसुनवाई, शाम 4 बजे सिवरेज, अमृत योजना, बुधवार को हाउसिंग फार ऑल, शाम 4 बजे जल प्रदाय एवं अमृत 2, गुरूवार को 11.30 बजे राजस्व, स्थापना, विधि एवं शाम 4 बजे सिविल, विद्युत निर्माण कार्य एवं शुक्रवार को 11.30 बजे से स्वच्छता, एसबीएम एवं शाम 4 बजे सीएम हेल्पलाईन व टीएल की समीक्षा बैठक ली जावेगी। साथ ही आयुक्त ने यह भी कड़े निर्देश दिया है कि सभी अधिकारी, कर्मचारी अपनी-अपनी जानकारी के साथ बैठक में उपस्थित रहें। बिना अनुमति के कोई भी अधिकारी बैठक में अनुपस्थित नहीं रहेगा।

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker