MP News

Swachh Survekshan 2022: स्वच्छता का सिक्सर: फिर नंबर-1 बना अपना इंदौर, देश का नंबर-1 राज्य,CM शिवराज ने दी बधाई

snn

Indore Bhopal swachhta survekshan 2022: स्वच्छता सर्वेक्षण अवार्ड 2022 में मध्य प्रदेश के इंदौर शहर ने स्वच्छ सर्वेक्षण छठी बार देश में पहला स्थान प्राप्त कर नया कीर्तिमान स्थापित कर दिया है. बड़ी राज्यों की कैटेगरी में एमपी देश का सबसे साफ सुथरा राज्य बन गया है वही एक बार फिर इंदौर ने बाजी मारी है. पिछले साल स्वच्छता का `पंच` लगाने के बाद अब इंदौर ने `सिक्सर` लगा दिया है. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने इसके लिए शहर को सम्मानित किया है.

स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 के अवार्ड समारोह में राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने यह सम्मान शहर को दिया. पुरस्कार सांसद शंकर लालवानी, महापौर पुष्यमित्र भार्गव, निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल ने ग्रहण किया.जैसे ही इंदौर को यह अवार्ड दिया गया तो पूरा हॉल तालियों की गड़गड़ाटों से गूंज किया. इंदौर वासियों ने भी यहां इस समारोह को लाइव देखा और गौरान्वित महसूस किया. इंदौर को स्वच्छता में पहला स्थान मिलने पर सीएम शिवराज सिंह चौहान व बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बधाई दी है.

अवार्ड समारोह का 11 स्थानों पर हुआ लाइव प्रसारण

इस अवार्ड समारोह का इंदौर में 11 अलग-अलग स्थानों पर लाइव प्रसारण किया गया. पहला स्थान मिलने के बाद हर नागरिक शहर पर फक्र कर रहा था. अगर देश में स्वच्छ शहरों की बात करें तो इंदौर के बाद दूसरे स्थान पर पर सूरत और तीसरे पर नवी मुंबई है.इस साल, मध्य प्रदेश का एक दूसरा शहर भोपाल शहर टॉप टेन की लिस्ट में छठे स्थान पर रहा. वहीं, छिंदवाड़ा ने 14वां स्थान हासिल किया है. स्वच्छता के मामले में आंध्र प्रदेश के तीन शहर भी टॉप टेन लिस्ट में शामिल हैं, चौथे और पांचवें स्थान पर विशाखापत्तनम और विजयवाड़ा जबकि सातवें स्थान पर तिरुपति है. 


मध्य प्रदेश देश में नंबर-1

देश का सबसे साफ सुथरा राज्य बनने का गौरव मध्य प्रदेश आर्थिक राजधानी इंदौर को मिला है. MP ने स्वच्छ भारत अभियान 2022 की स्वच्छता रैंकिंग में 100 से ज्यादा शहरों वाले राज्य की कैटेगरी में नंबर-1 रैंक हासिल की है. आज दिल्ली के तालकटोरी स्टेडियम में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने यह सम्मान एमपी को दिया. वहीं दूसरे स्थान पर सूरत और तीसरे पर नवी मुंबई है. जानिए किस शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में कौन सा स्थान मिला है.

राष्ट्रपति ने देशभर में इंदौर को बताया मॉडल


सम्मान समारोह में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि इंदौर ने जनभागीदारी का जो मॉडल अपनाया है, उसे सभी राज्यों के शहरों को लागू करना चाहिए. इंदौर मॉडल पूरे देश में लागू करने की आवश्यकता है. बड़े राज्यों में मध्य प्रदेश ने बाजी मारी है, यहां के नागरिकों को भी बधाई. इस मौके पर भारत सरकार ने शंकर महादेवन के स्वच्छता में गाये एक गीत को भी लांच किया.राष्ट्रपति ने जनभागीदारी के लिए मध्य प्रदेश की जनता को बधाई दी और कहा कि आपके जज्बे ने ये कमाल कर दिखाया है कि राज्य भी नंबर वन और शहर भी नंबर वन

वही अन्य शहरों की बात करें तो एक लाख से ज्यादा आबादी बाली बड़े शहरों में इंदौर जहां नंबर वन पर है तो वही गुजरात का व्यापारिक नगर सूरत दूसरे स्थान पर है जबकि देश की आर्थिक राजधानी नवी मुंबई तीसरे स्थान पर है. वहीं एक लाख से कम आबादी वाले शहरों में महाराष्ट्र का पंचगनी नंबर एक है. दूसरे नंबर पर छत्तीसगढ़ का पाटन आया है. तीसरा पायदान महाराष्ट्र के कराड़ को मिला है

इस लिस्ट में त्रिपुरा 100 शहरों से कम वाले राज्य यानि की छोटे राज्यों की श्रेणी में टाप पर है. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने ये सम्मान दिया और सभी को बधाई भी.

सीएम ने ट्वीट कर दी प्रदेश और इंदौर को बधाई: 100 से अधिक शहरो में एमपी के नंबर वन और इंदौर शहर के लगातार 6वीं बार जीतने पर सीएम शिवराज ने दो ट्वीट कर बधाई दी है. सीएम ने ट्वीट कर लिखा कि मार्गे स्वच्छता विराजते, ग्रामे सुजना: विराजते, स्वच्छता हमारा संकल्प, हमारी जीवनशैली और हमारा आग्रह है. इंदौर में स्वच्छता के नए मानक स्थापित कर आज देश में अपना गौरवपूर्ण अनुपम स्थान बनाया है

विजयवर्गीय ने दी बधाई: इसके अलावा बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी ट्वीट कर इंदौरवासियों को बधाई दी है. कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा कि एक बार फिर नंबर 1 इंदौर साथ ही हमारा मध्यप्रदेश भी सबसे स्वच्छ प्रदेश बना है.

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker