uncategorized

अब चरणवंदन करने वाले पुलिसकर्मियों की खैर नहीं,आईजी रीवा ने चरण स्पर्श कहने पर लगाई रोक,जानिए क्या है मामला,

rewa ig2027946978649457837.

रीवा । अब अधिकारियों की नजर में चरण वंदन कर इमेज बढ़ाने बाले, चाटुकारिता करने वाले पुलिसकर्मियों की खैर नहीं है। अब कोई पुलिसकर्मी किसी अधिकारी के पैर छूते या फिर चरण वंदन करते दिखा दो उसके खिलाफ कार्यवाही हो जाएगी।पीएचक्यू के आदेश के बाद आईजी रीवा चंचल शेखर ने आदेश जारी कर कहा कि शासकीय कार्य से अपने वरिष्ठ अधिकारियों को टेलिफोन लगाकर  अभिवादन के रूप में  चरण स्पर्श आदि जैसे शब्दों का उपयोग किया जाता है जो कतई उचित नहीं है।

आईजी ने आदेश जारी कर कहां है कि अधीनस्थ समस्त अधिकारियों कर्मचारियों को अधिकारियों से बात करने पर अभिवादन के रूप में केवल नमस्कार जय हिंद या फिर गुड मॉर्निंग गुड इवनिंग जैसे शब्दों का उपयोग किया जाए साथ ही यूनिफॉर्म में अधिकारियों से मुलाकात करते समय बहुत से अधिकारी कर्मचारी वरिष्ठ अधिकारियों के पैर छूते हैं यह प्रथा भी गलत है और तत्काल प्रभाव से इस पर रोक लगाने के आदेश जारी किए हैं।

आईजी ने पत्र में साफ तौर से कहा है कि भविष्य में किसी के द्वारा भी दूरभाष मोबाइल मैसेज अथवा बात करते समय चरण स्पर्श आज जैसे शब्दों का उपयोग किया जाता है या फिर अधिकारियों से मुलाकात पर यूनिफॉर्म में चरण स्पर्श किए जाते हैं तो उनके विरुद्ध दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी इस आदेश को कढ़ाई के साथ पालन सुनिश्चित करने के आदेश दिए हैं।

गौरतलब है कि नवंबर 2019 में कई पुलिस कर्मचारियों ने पुलिस विभाग के मुखिया को अवगत कराया था कि उनके द्वारा अपने अफसर को चरण स्पर्श नहीं किया गया तो उन्हें या तो लाइन भेज दिया गया या फिर उनका तबादला करा दिया गया।जिसके बाद से ही लगातार इस बात का कयास लगाया जा रहा था कि मैदानी स्तर पर कुछ बड़े बदलाव कराने पर पुलिस मुख्यालय विचार कर रहा है। हालांकि शुरुआत राजनैतिक हस्तक्षेप से हुई, लेकिन अब मुख्यालय के आदेश पर आईजी स्तर के अधिकारी आदेश जारी कर एक बार फिर पुलिस विभाग में समानता लाने का प्रयास कर रहे हैं।

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

please dezctivate Adblocker