uncategorized

युवक को नाबालिक से छेड़खानी करना पड़ा महंगा,परिजनों ने खंभे से बांधकर की पिटाई

सीधी — बर्तन धो रही नाबालिग के साथ युवक को छेड़खानी करना महंगा पड़ा है जी हां छेड़खानी की जानकारी परिजनों को लगते ही मौके पर पहुंच युवक को खंभे में बांधकर जमकर धुनाई की है। बता दें कि जिला मुख्यालय के समीपस्थ नौढिय़ा पंचायत में एक नाबालिग के साथ छेडख़ानी करने के मामले में आरोपी की पीडि़त के परिजनों ने खंभे में बांधकर जमकर धुनाई की। मामले की जानकारी होते ही मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा आरोपी एवं पीडित के परिजनों को थाने ले गई थी। इस मामले में दोषी के खिलाफ कार्यवाही की गई है। 

क्या था मामला
जानकारी के अनुसार नौढिय़ा पंचायत में रविवार की सुबह आरोपी दशरथ 22 वर्ष सुबह 6 बजे बर्तन धो रही नाबालिग लड़की के साथ हाथ पकड़कर छेडख़ानी करने की कोशिश की गई। इस दौरान हल्ला गुहार होने के कारण आरोपी भाग गया था लेकिन पीडिता के परिजन आरोपी की तलाश कर रहे थे। सोमवार की सुबह जैसे ही आरोपी घर में मिला तो पीडिता के परिजनों ने उसे खंभे में बांधकर धुनाई भी की। इसी बीच डायल 100 को सूचना देने के कारण मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी को थाना जमोड़ी ले गई। बताया गया है कि इस मामले में आरोपी द्वारा पीडिता के भाई को बंधक बनाने एवं मारपीट करने के दौरान हाथ में ब्लेड से चीरफाड़ भी किया गया। घटना में शिकायत के बाद पुलिस द्वारा आरोपी दशरथ साकेत के खिलाफ धारा 354 एवं पास्को एक्ट के तहत कार्यवाही की गई है। फिलहाल मामले को लेकर नौढिय़ा में चर्चा का विषय बना रहा। 

सिंगरौली में 12 केन्द्रों पर लगाई जाएगी कोरोना वैक्सीन,15 टीमें बनाई

छेडख़ानी के मामले को लेकर पीडिता के परिजनों ने आरोपी को बंधक बनाने सहित खंभे में बांधकर धुनाई भी की है। हालांकि मामला दूसरे पक्ष पर भी बनता था लेकिन पुलिस ने आरोपी के खिलाफ ही मामला पंजीबद्ध करना उचित समझा।

सूचना उपरांत भी काफी देर से पहुंची पुलिस 
नौढिय़ा की इस घटना को लेकर पुलिस को सूचना दी गई लेकिन डायल 100 काफी देर पहुंची थी। इस दौरान आरोपी को बंधक बनाकर पिटाई का कारनामा होता रहा। यहां तक की काफी भीड़ भी जमा हो गई थी। पीडिता के पिता एवं भाई मौके पर उपस्थित थे। जो बंधक बनाकर युवक की धुनाई कर रहे थे। 

रीवा संभाग में इस काम को लेकर दूसरे स्थान पर पहुंचा सीधी, 


आए दिन बढ़ रही वारदातें,पुलिस के लिए चुनौती
प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के विरूद्ध अपराधों की रोकथाम एवं महिला सुरक्षा को समाज के केन्द्र पर लाने हेतु जागरूकता अभियान का शुभारंभ कल 11 जनवरी से किया गया है। ऐसी स्थिति में बीते दो दिनों के अंदर दो घटनाएं सीधी जिले में घटित हुई जो समूचे जिले को शर्मशार कर रही हैं। बीते शनिवार को अमिलिया में सामूहिक दुष्कर्म उपरांत महिला के प्राइवेट पार्ट में सरिया डालने के मामले के बाद कल नौढिय़ा में नाबालिग के साथ छेडख़ानी के बाद आरोपी को बंधक बनाकर मारपीट की वारदातें भी की गई जो शर्मशार करने वाली हैं। ऐसे में महिलाओं के साथ सुरक्षा के नाम पर एक तरह से शासन का सारा कानून दिखावा बन रहा है। 

सीधी कि दुष्कर्म पीड़िता खतरे से बाहर,राहुल गांधी बोले एक और निर्भया,कब तक सहेंगे नारी पर वार ? 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button