नरसिंहपुरमध्य प्रदेश

नेपाल से लाई गई 6 करोड़ की 117 किलो हशीश बरामद,दो कार समेत 7 आरोपी गिरफ्तार 

नरसिंहपुर —  डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस (डीआरआइ) इंदौर व भोपाल यूनिट ने नरसिंहपुर जिला पुलिस की मदद से दो कारों में रखी 117 किलो हशीश जब्त की है। जिसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में करीब 6 करोड़ कीमत बताई जा रही है। मादक पदार्थ हशीश की तस्करी के आरोप में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है । आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई कर कोर्ट में पेश किया गया जहां से सभी आरोपियो को जेल भेज दिया है। 

सिंगरौली में निकाय चुनाव के बहाने विधान सभा की जमीन तैयार करने में जुटी रानी अग्रवाल,बीजेपी-कांग्रेस सख्ते में,जानिए क्या है गणित

गौरतलब है कि मंगलवार देर रात से बुधवार दोपहर तक संयुक्त दल ने नरसिंहपुर जिले के बचई स्थित टोल प्लाजा पर हशीश जब्त करने की कार्रवाई की गई हैं । नरसिंहपुर के पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने गुरुवार को पत्रकारों को बताया कि डीआरआइ ने तीन दिन पहले ही सूचित किया था कि नेपाल सीमा से तस्करी के जरिये बड़ी मात्रा में हशीश की खेप नरसिंहपुर के रास्ते चेन्नई ले जाने वाले है। इस पर जिले के सभी टोल नाकों और सीमाओं पर नाकेबंदी की गई थी।

नौकरी का झांसा देकर बुलाया इंटरव्यू के लिए होटल, नशीला पदार्थ पिलाकर किया गैंगरेप और हो गए फरार

पुलिस की सख्त पूछताछ के बाद आरोपितों ने बताया कि हशीश की यह खेप नेपाल सीमा से उत्तर प्रदेश होते हुए चेन्नई (तमिलनाडु) की ओर ले जाई जा रही थी।उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 44 (ललितपुर-नागपुर) पर एक डस्टर कार टीएन 05 एडब्ल्यू 0965 व टाटा जेस्ट कार यूपी 78 एफडी 5857 को रोका गया। दोनों कारों की जांच की गई तो इसमें विशेष तरह के गुप्त चैंबर मिले, जिसमें हशीश के 117 पैकेट रखे हुए थे। पकड़े गए आरोपितों में चार उत्तर प्रदेश के और तीन तमिलनाडु के हैं। नरसिंहपुर एसपी ने बताया कि इन सभी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट (नार्कोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट या स्वापक औषधि और मनःप्रभावी पदार्थ अधिनियम ) की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

CM शिवराज ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दिया बड़ा तोहफा,जानिए कितना होगा फायदा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button