राजनीति

हम आग भी वहां लगाते हैं, जहां मुर्दा भी..वाले बयान पर MP Pragya यू टर्न : अब बोलीं- BJP से नाराज नहीं पार्टी का फैसला

We also set fire there, where even the dead .. MP Pragya U turn on the statement: Now said - the party's decision is not angry with BJP

MP Pragya We also set fire there – अपने बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाली भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा एक बार फिर से एक ट्वीट को लेकर विवादों से घिर गई है. इस ट्वीट के बाद उन्हें बीजेपी कार्यालय तलब किया गया है. पार्टी कार्यालय से बाहर निकलकर साध्वी प्रज्ञा के सुर बदले नजर आए. अपनी सफाई में प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि मैंने जो कुछ भी कहा वह कांग्रेस के लिए कहा था. (MP Pragya)

भड़काऊ टिप्पणी के साथ भोपाल के सांसद ने यू टर्न लिए हैं, भाजपा के नगर निकाय चुनाव के लिए चुनाव समिति में जगह नहीं मिलने पर सांसद भड़क गई थी. कांग्रेस ने जब सवाल उठाया तो प्रज्ञा ने सोशल मीडिया पर लिखा- हजारों सवालों का एक ही जवाब- संगठन की चयन समिति में नाम न होने का फैसला “शिरोधार्य” है. लेकिन आठ विधानसभाओं के लोगों ने एक लोकसभा सांसद को चुना है, मैं इन लोगों के प्रति अपनी जिम्मेदारी जरूर निभाऊंगी हाँ,  हां, कां. हम आग भी वहां लगाते हैं, जहां मुर्दा भी आग से डरते हैं. सांसद_संन्यासी. 

Also Read – Half naked फोटो खिचवा कर आलीशान घर-कार समेत करोड़ो की मालकिन हैं उर्फी जावेद, जानिये कितनी है प्रॉपर्टी

हम आग भी वहां लगाते हैं, जहां मुर्दा भी..वाले बयान पर MP Pragya यू टर्न : अब बोलीं- BJP से नाराज नहीं पार्टी का फैसला
photo by google

अब सोमवार को सांसद प्रज्ञा ने विवेकपूर्ण बयान के संदर्भ में स्थिति स्पष्ट की उन्होंने कहा, “मुझे कांग्रेस से असंतोष है, जो हमेशा रहेगी.” कांग्रेस ने कहा है कि वह आग लगाने के लिऐ हैं.उन्होंने कहा, “भाजपा से कोई असंतोष नहीं है, हम सब इसकी आधारशिला हैं.”बीजेपी संगठन “शिरोधार्य”, संगठन के फैसले सभी मिलकर करते हैं. मुझे संभागीय समिति में नहीं रखा गया, पार्टी अपने हिसाब से फैसला लेती है. MP Pragya

सांसद प्रज्ञा ने कहा कि सभी समितियों का गठन किया गया है. यह व्यवस्था कमेटी के गठन में भी है, इससे नाराज नहीं हुआ जाता, यह संगठन की प्रणाली है. दलगत राजनीति में यह विश्व का सबसे बड़ा संगठन है, हम सब इसकी आधारशिला हैं. हम कभी क्रोधित नहीं होते क्योंकि व्यवस्थाएं होती हैं, यह एक प्रक्रिया है. इस प्रक्रिया में हर कोई शामिल है. झुंझलाहट का कोई सवाल ही नहीं है. मैंने कांग्रेस को जवाब दिया, उनकी तरफ से हजारों सवाल आ रहे थे. मैंने जवाब दिया कि यह कांग्रेस थी जिसने आग लगाई थी, कांग्रेस कहीं बची नहीं हैं. MP Pragya

कांग्रेस ने कहा, क्या यह सिर्फ आग लगाने के लिए है?

भाजपा ने नगरीय निकायों के चयन के लिए चयन समिति का गठन किया, इनमें भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह शामिल नहीं थीं, इस संदर्भ में कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने 10 जून को एक बयान जारी कर कहा कि नगर निकाय चुनाव पर भाजपा स्थित संभाग आधारित चयन समिति से भोपाल संभाग से केवल स्थानीय सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर अनुपस्थित हैं. साध्वी से कितनी दूरी है? .. क्या ये केवल “आग” लगाने के लिए उपयुक्त हैं. (MP Pragya)

शासन हालत सुधार देगा और अपराधियों को दंड दिया जाएगा. एक अन्य बयान में कहा था कि सच कहना बगावत है तो समझो हम भी बागी हैं. मैं सत्य बोलने के लिए बदनाम हूं. उन्होंने ज्ञानवापी का नाम लिए बिना कहा कि यह एक सत्य है कि वहां शिव मंदिर था और है और रहेगा. उसे फव्वारा कहना गलत है. यह हमारे हिंदू देवी-देवता और सनातन धर्म पर कुठाराघात है. (MP Pragya)

Also Read – Abhishek की वजह से Aishwarya Rai की अधूरी ख्वाहिशें ? टूटते तारों को देख मांगी दुआ !

हम आग भी वहां लगाते हैं, जहां मुर्दा भी..वाले बयान पर MP Pragya यू टर्न : अब बोलीं- BJP से नाराज नहीं पार्टी का फैसला
photo by google

Back to top button