uncategorized

दो दिवसीय प्रशिक्षण के बाद आयोजित हुई परीक्षा देर शाम जारी हुए रिजल्ट में शत-प्रतिशत बेहतर रहा परिणाम

सिंगरौली 18 मार्च-जिला मुख्यालय बैढऩ के बिलौजी में स्थित अलट बिहारी सामुदायिक भवन में आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद गुरुवार को करीब 65 प्रधान आरक्षकों की परीक्षा आयोजित कराई गई। देर शाम जारी हुआ रिजल्ट शत-प्रतिशत बेहतर रहा। इसमें पांच ऐसे पुलिस के जवान हैं जिन्होंने बेहतर अंक प्राप्त किया है।

एसपी बीरेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रशिक्षण के बाद आयोजित हुई परीक्षा से यह साबित हो गया कि आरक्षक से प्रधान आरक्षक बने जवानों को बेहतर पुलिसिंग के दिक्कतें नहीं होंगी। बतादें कि सीएसपी, एसडीओपी सहित थानेदारों को अलग-अलग अपराध के बारे में प्रशिक्षित कर परीक्षा आयोजित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

सीएसपी देवेश पाठक को उच्च न्यायालय व उच्चतक न्यायालय के डायरी व अपील के संबंध में, एसडीओपी राजीव पाठक वर्तमान परिदृश्य में थानों में व्यवहार, एसडीओपी आशुतोष द्विवेदी को साक्ष्य संकलन उनका परीक्षण एवं न्यायालय में उपयोगिता, रितेश कुमार शिव को पॉक्सो एक्ट जुवेनाइल जस्टिस, एससी व एसटी एक्ट, कोतवाल अरुण पाण्डेय को संपूर्ण प्रकार शिकायत जांच के संबंध में, टीआई राघवेन्द्र द्विवेदी को प्रथम सूचना पत्र, विवेचना एवं चालानी कार्रवाई, टीआई यूपी सिंह थाने की प्रतिबंधात्मक कार्रवाई पर उचित दस्तावेजीकरण लेखन व पंजीयन, टीआई रावेन्द्र द्विवेदी आदर्श आचार संहिता एवं सेवा की सामान्य शर्ते पुलिस रेग्यूलेशन, टीआई नेहरू सिंह को मर्ग जांच, रक्षित निरीक्षण आशीष तिवारी, टीआई मनीष त्रिपाठी व टीआई नागेन्द्र सिंह को प्रशिक्षण आयोजनकर्ता एवं परीक्षा प्रभारी एवं जांचकर्ता, संतोष तिवारी को माइनर एक्ट की जानकारी व कार्रवाई, टीआई शंखधर द्विवेदी को थाने का रिकार्ड संधारण, जितेन्द्र भदौरिया प्रभारी सायबर सेल को सीसीटीवी, सीसीटीएनएस, कैमरा सायबर सेल का वर्तमान उपयोग की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। अपनी जिम्मेदारी के साथ सीएसपी, एसडीओपी सहित थानेदारों ने जवानों को प्रशिक्षण देकर परीक्षाएं ली हैं। जिसमें बेहतर परिणाम रहा है। आरआई आशीष तिवारी के अनुसार प्रशिक्षण में 75 पदोन्नति प्रधानआरक्षक शामिल हुये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button