uncategorized

सांसद रीती पाठक ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन से भूमि-अधिग्रहण बदले नौकरी के लिए कहीं यह बड़ी बात

सिंगरौली 4 फरवरी। गुरूवार 4 फरवरी को सीधी सांसद रीती पाठक ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन सुनीत शर्मा से भेंटकर कोरोना के कारण बंद सिंगरौली से दिल्ली व सिंगरौली से भोपाल जाने वाली दोनों टे्रनों के पुन: संचालन के लिए कहीं। जिस पर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री शर्मा ने तत्काल पश्चिम मध्य रेल के संबंधित अधिकारियों से दूरभाष पर चर्चा कर दोनों टे्रनों को संचालित करने के लिए निर्देशित किया।


सीधी सांसद ने श्री शर्मा से ललितपुर-सिंगरौली रेल लाईन के भाग रीवा से सिंगरौली में जिनकी भूमि अधिग्रहीत की गई है उन्हे रोजगार उपलब्ध कराने के संबंध में चर्चा करते हुए कहा कि यह परियोजना वर्षों से लंबित थी। बतौर सांसद 2014 में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार बनने के पश्चात मेरे आग्रह पर पर्याप्त बजट उपलब्ध कराकर कार्यों में तीव्रता प्रदान की गई।

GF के साथ दोस्त के कमरे में पकड़ाया करोड़पति कारोबारी का बेटा,फिर हुआ हंगामा,आ गई पुलिस

रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने सांसद रीति पाठक को सभी को रोजगार प्रदान करने हेतु आश्वस्त किया गया। रोजगार प्रदान भी किया, परंतु 11 नवम्बर 2019 को रेलवे द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया कि अब रेलवे के किसी भी परियोजना में भू-अधिग्रहण के बदले रोजगार प्रदान नही किया जायेगा, फिर मैनें रेलमंत्री रेलवे बोर्ड व लोकसभा सदन के माध्यम से आग्रह किया जिसके फलस्वरूप रेलवे बोर्ड द्वारा कहा गया कि जिनकी भूमि 11 नवम्बर 2019 के पूर्व अधिग्रहीत की गई है उन्हे रोजगार प्रदान किया जायेगा, परंतु ऐसे बहुत पत्र प्राप्त हुए जिनमें पश्चिम मध्य रेल द्वारा उल्लेखित था कि आपका आवेदन 11 नवम्बर 2019 के पूर्व नही प्राप्त हुए फलस्वरूप आपके आवेदन पर विचार नही किया जायेगा। क्यूंकि ऐसे किसी का पूर्वानुमान नही था जिसके कारण अभ्यर्थियों को कागजात पूर्ण करने में थोड़ी देरी हुई होगी क्यूंकि उनकी भूमि 11 नवम्बर 2019 के पूर्व अधिग्रहीत की है। इसलिये वो रोजगार प्राप्त करने हेतु पात्र है। श्री शर्मा ने सीधी सांसद को आश्वस्त किया कि इस बिषय पर विचार के लिये कमेटी के समक्ष रखा जायेगा।

अमोनिया गैस लीक से दो लोगों की मौत,90 से अधिक लोग बीमार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button